Home / विदेश / अजब-गजबः ऐसे देश जहां लोग रहते हैं नंगे
spa and nude biking

अजब-गजबः ऐसे देश जहां लोग रहते हैं नंगे

नयी दिल्ली। चौकिये नहीं यह बात सुनने में अजीब तो लग रही होगी, लेकिन यह बात पूरी तरह सच है कि दुनिया में ऐसे कई देश है जहां लोग अक्सर कपड़े पहनने की जरूरत नहीं समझते हैं लोग। पूर्णरूप से नग्न स्त्री पुरुष बिना किसी झिझक के घूम सकते हैं। कोई भी किसी से शर्म लिहाज नहीं करता है। ऐसे में वहां का नजारा कैसा होगा आप कल्पना भी नही कर सकते है।

12 मार्च को विश्व के अनेक शहरों में वर्ल्ड नेकेड साइकिल राइडिग का आयोजन किया गया जिसमें भारी संख्या में लोगों ने पूर्ण रूप से नग्न हो कर इस समारोह में शामिल हुए। यह समारोह हेल्दी ह्यूमन बॉडी के लिये आयोजित की गयी। इस समारोह का आयोजन करने का उद्देश्य लोगों अपनी सफाई और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है। लोगों से विश्व को सकारात्मक शरीर रखने के लिये प्रोत्साहित किया जाता है। जापान के टोक्यो में एक ऑनसेन नाम का समारोह आयोजित किया जाता है। यहां के लोग न्यूड हो कर स्वच्छंद विचरण करते हैं। यह माना जाता है कि इससे लोगों के शरीर को नेचुरल व पॉजिटिव इनर्जी मिलती है। जापान के ऑनसेन में प्राकृतिक खनिज प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं।

इंडोनेसिया के बाली स्थित अयाना रिजार्ट में न्यूड हो कर स्पा लेने की सुविधा उपलब्ध है। लोगों का मानना है कि यहां की परंपरा के अनुसार स्पा लेने से लोगों में नयी ऊर्जा और उमंग आ जाती है। यहां आने वाले लोगों को स्पा लेने की चाहत रहती है। न्यूड सौना बाथ लेने के लिये लोग फिनलैंड के हेलसिंकी स्थित कोटिहारजुन में नग्न हो कर सौना बाथ लेने की होड़ रहती है। हेलसिंकी के इस सौना बाथ सेंटर में आने वाले लोग पूरी तरह से नग्नावस्था में देखा जाता है। यहां लोग एक दूसरे को मसाज देते हुए भी देखे जाते हैं।

इसी तरह आस्ट्रिया में नेकेड आर्ट फेस्टिल का आयोजन किया जाता है। इस आयोजन में विश्व की नामी गिरामी मॉडल अनेक चटकीले रंगों से अपने नग्न शरीर पर पेंटिंग कराती हैं। इस प्रतियोगिता में सुंदरता को नग्नता के आधार पर आंका जाता है। यहां मौजूद कोई भी आर्टिस्ट किसी भी नग्न महिला या पुरुष के शरीर पेंटंग करने को आजाद रहता है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

india-china

NSG में भारत की दावेदारी और अधिक जटिल होने वाली है चीन

बीजिंग:  परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह NSG में भारत के प्रवेश का समर्थन करने से एक बार …