Breaking News
Home / देश / नेताओं के कारनामों से जनता हुई आहत
SandeepKumar_6

नेताओं के कारनामों से जनता हुई आहत

 नई दिल्ली।  भारत देश में हम सबको समान अधिकार प्राप्त हैं, और हम वोट देकर अपनी सहमति से अपना नेता चुनते हैं, ताकि वो सरकार के समक्ष जनता की समस्याओं को रखकर उनका समाधान करा सके। हम सब समाज में अपनी मर्ज़ी से जीवन बिता सकतें हें इसकी हमें पूरी आजादी है लेकिन किसी को हानि पहुंचाए बिना।  अगर कोई किसी को नुकसान पहुंचाता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाती है। इसलिए ही कानून का बनाया गया है। वैसे तो समाज में सारे काम होते हैं, लेकिन अपनी जगह पर और अपनी सहमति से।

अपनी समस्याओं का समाधान कराने के लिए हम एक नेता चुनतें हैं जिससे उम्मींद की जाती है कि वो एक साफ-सुथरी छवि वाला व्यक्ति हो। वो कोई ऐसा काम न करे जिससे समाज में उसकी छवि पर कोई आंच आए। अगर ऐसा होता हे तो नेता की छवि तो खराब होती ही है साथ में जनता को भी पछतावा होता है कि उन्होंने किस चरित्रहीन व्यक्ति को अपना नेता चुन लिया। हाल ही में ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें एक नेता की छवि दागदार हुई है, और वहीं ऐसा नेता चुनने पर जनता को पछतावा भी है। इसी तरह सेक्स सीडी कांड में मंत्री पद गंवाने वाले आप के संदीप कुमार की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रहीं। संदीप कुमार की आपत्तिजनक सीडी लीक होने के बाद उन्हें तमाम मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।  इस पर जनता की राय जानें तो अलग-अलग जवाब सामने आए हैं। किसी ने कहा कि बहुत ही

शर्मनाक है किसी ने कहा कि ऐसा तो अधिकतर लोग करते हैं। किसी ने कहा कि फंसाया जा रहा है। किसी ने कहा कि नेताओं को हमेशा अपनी छवि को बनाए रखना चाहिए।

और अगर वास्तिव्ता की बात करें तो संदीप कुमार की कथित सीडी में सामने आया है वो बहुत ही शर्मनाक है। अगर ऐसी करतूत नेता करेंगे तो जनता का उनपर से विश्वास उठ जाएगा।बात ये भी है कि अगर ये कोई आम आदमी करता तो कोई दिक्कत नहीं होती, अगर कोई नामी व्यक्ति करे तो शर्मनाक हो जाता है। जबकि ऐसा अधिकतर लोग करते हैं। गलत तो गलत ही है चाहे वह कोई नेता करे या कोई आम आदमी। खैर सीडी में कितनी सच्चाई है ये तो जांच के बाद ही पता चलेगा। इस मामले को क्राइम ब्रांच को सौंप दिया और क्राइम ब्रांच ने सेक्स सीडी की सत्यता की जांच के लिए उसे सीएफएसएल लैब भेजने वाली है। एक बात तो साफ है कि इस करतूत से जनता बहुत आहत है।

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …