Home / देश / एआईसीटीई गिराएगी 800 इंजीनियरिंग कालेजों पर गाज
engineering college

एआईसीटीई गिराएगी 800 इंजीनियरिंग कालेजों पर गाज

नयी दिल्ली। देश भर में कुकुरमत्तों की तरह खुले इंजीनियरिंग कालेजों पर एआईसीटीई ने नकेल कसने की तैयारी कर ली है। इन कालेजों में क्षमता के अनुरूप एडमिशन नहीं हो रहे हैं। सभी कालेजों को अपनी फाइनल रिपोर्ट जमा करने करने का निर्देश जारी कर दिये गये हैं। इसी लिये इन कालेजों की लिस्ट जारी नहीं की गयी है। 2018-19 के सत्र में कालेजों में बदलाव किये जा सकते हैं। यह भी तय होगा कि किन कालेजों को बंद किया जाये और किन्हें दूसरे कालेज में मर्ज किया जाये।

एआईसीटीई ने यह फैसला इस लिये लिया क्यों कि लगभग 800 इंजीनियरिंग कालेजों में पिछले पांच सालों से काफी कम एडमिशन हुए हैं। कौंसिल ने इन कालेजों को सितंबर के दूसरे सप्ताह तक अपनी फाइनल रिपोर्ट देने को कहा है। ऐसे कालेजों को जिनमें 30 प्रतिशत से कम एडमिशन हुए हैं उन्हें बंद करने या करीब के अन्य कालेज के साथ विलय करने का आप्शन रखा है। यह निर्णय देश के इंजीनियरिंग कालेजों में की गयी स्टडी के बाद लिया गया है। कौंसिल की स्थापना कालेजों में उत्कृष्टता और नियमबद्ध करने के लिये हुई है। देश में फिलहाल 10,361 कालेज संचालित किये जा रहे हैं। महाराष्ट्र में कुल 1500 कालेज है। इसके अलावा तमिलनाडु में 1300, यूपी में 1165 और आंध्र में 800 कालेज संचालित किये जा रहे हैं।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

kovind with Bahoo

राष्ट्रपति की बहू लडेंगी बीजेपी के खिलाफ चुनाव

नयी दिल्ली। कानपुर के झींझक नगर पालिका का चुनाव में भाजपा के लिए उस समय …