Home / देश / चुनाव स्पेशल / अमित शाह के आदिवासी प्रेम की पोल खुलीः घर में कूलर, गैस सिलिंडर की व्ववस्था
amit-shah

अमित शाह के आदिवासी प्रेम की पोल खुलीः घर में कूलर, गैस सिलिंडर की व्ववस्था

नयी दिल्ली। राहुल गांधी पर दलित प्रेम पर तंज कसने वाली बीजेपी आजकल उसी राह पर चल रही है। यूपी में चुनाव के पहले अमित शाह ने दलित प्रेम दर्शाने को कई बार दलितों के साथ भोजन करने का नाटक किया। इसी क्रम में कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष और अन्य नेताओं ने दलितों के साथ भोजन करने का स्वांग रचा। लेकिन वहां इन नेताओं के नाटक से नाराज दलितों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए मुकदमा कराने का प्रयास किया।

ताजा मामला बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का सामना आया है। गुजरात चुनाव सिर पर है। इसके चलते बीजेपी आदिवासियों को रिझाने में जुटी है। इसी क्रम में भाजपा ने उनके साथ अमित शाह के भोज कराने का कार्यक्रम बनाया। लेकिन शाह की सहूलियतों को ध्यान रखते हुए भोजन कार्यक्रम से पहले उस आदिवासी के घर पर कूलर, रसोई गैस सिलिंडर और टॉयलेट की व्यवस्था करा दी थी। इसका पता जैसे राजनीतिक दलों को हुई सोशल मीडिया पर इसकी चर्चा शुरू हो गयी।
मालूम हो कि गुजरात में आम चुनाव होने को कुछ समय ही रह गया है। अतः भाजपा यहां अपना किला बचाने के प्रयास में जुट गयी है। इसलिये गुजरात में चुनाव से पहले आम नागरिकों के घरों पर भोजन करने की चुनावी रणनीति अपना रही है। इसी क्रम में बुधवार को जनजाति बाहुल्य क्षेत्र छोटा उदयपुर के देवलिया गांव पहुंचे थे। वहां उन्होंने उन्होंने स्थानीय कार्यकर्ताओं और आदिवासियों के भोजन किया। इस भोज के जरिये आदिवासियों के बीच बीजेपी का आधार मजबूत करने का प्रयास किया गया। इससे पहले शाह ने प. बगाल के नक्सलबाड़ी में एक दलित के घर पर भोजन किया था।

शाह के इस कार्यक्रम से उस आदिवासी के घरों पर सोगातों की बरसात हो गयी। शाह को कोई परेशानी न हो इस लिये घर पर सारी आवश्यक उपकरण उस दलित के घर पहुचा दिये गये। जानकारी हो कि इस इलाके में कांग्रेस का काफी समय से दबदबा कायम है। शाह भोज कार्यक्रम के जरिये बीजेपी का आधार बनाने के साथ कांग्रेस के किले में सेंध लगाना चाहते हैं।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

fraud

यूपी में फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

नयी दिल्ली। मेरठ पुलिस ने यूपी में फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह के पर्दाफाश करने …