Breaking News
Home / देश / राज्यसभा में उठा सवाल किस संविधान के तहत लोगों के पैसों पर पाबंदी लगाने का मिला अधिकार?

राज्यसभा में उठा सवाल किस संविधान के तहत लोगों के पैसों पर पाबंदी लगाने का मिला अधिकार?

नई दिल्ली: राज्यसभा की कार्रवाई शुरू होते ही मोदी सरकार द्वारा लिए गए फैसले का विरोध शुरू हो गया हैं। बता दे कि संसद सत्र शुरू होने के पहले पीएम मोदी ने अपील की कि राष्ट्रहित में लिए गए फैसले पर सभी दलों का साथ होना चाहिए मगर नोटबंदी फैसले के बाद विपक्षी दलों के द्वारा हंगामा होना निहित हैं।

इसे भी पढ़े : पीएम मोदी संसद पहुंचे, सांसदों ने किया विरोध प्रदर्शन, शीतकालीन सत्र शुरू

राज्यसभा से लाइव अपडेट:

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने आते ही सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि आपके पास तो स्विस बैंक की सूची हैं, तो आप देश को बताए कि आखिर वो कौन लोग हैं?  देश को पता तो चले कि आपको माला पहनाने वाले कितने नाम शामिल हैं। इसके बाद उन्होंने कहा कि आप तो गरीबों की बात करते हैं तो उन तमाम लोगों के बारे में जानकारी दें।

सरकार पर लग रहे आरोप:

किस संविधान के तहत आपको अधिकार दिया गया कि लोगों के पैसे निकालने पर आप पाबंदी लगा सके। आपने आर्थिक अराजकता लाई हैं। आपने देश के तमाम नागरिकों को अपराधी बना दिया। सरकार बताए कि कौन सा आतंकवादी बोरी भरकर बैंक जाता हैं? बैंक तो केवल वहीं जाता हैं, जिसके पास मेहनत का पैसा होता हैं।

इसे भी पढ़े : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की किडनी फेल, ऐम्स में एडमिट

नोटबंदी फैसले को लेकर आनंद शर्मा कहते हैं कि हमारे देश की अर्थव्यवस्था में कृषि का महत्वपूर्ण योगदान हैं। किसान मेहनत करता हैं इसीलिए हिन्दुस्तान को हाथ नही फैलाना पड़ता हैं। हमारा अन्नदाता हैं किसान, वो किसान मंडी में फसल बेंचता हैं। क्या वो किसान कालाधन लेकर आता हैं?

Next9News

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …