Breaking News
Home / देश / यौन शोषण के आरोपी राहुल जौहरी को बचा ले गये बीसीसीआई चीफ
edulgi-vinod-rai

यौन शोषण के आरोपी राहुल जौहरी को बचा ले गये बीसीसीआई चीफ

नयी दिल्ली। मी टू अभियान के तहत एक युवती ने बीसीसीआई सीईओ राहुल जौहरी पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। इस पर बीसीसीआई ने यह कह कर मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया कि विदेश दौरे से लौट कर आयेंगे तो उन्हें पदमुक्त कर दिया जायेगा। वापस लौटने पर जौहरी से एक सप्ताह में जवाब देने को कहा। एक सप्ताह बाद उन्होंने बीसीसीआई चीफ को यह जवाब दिया कि उनके साथ ऐसा कभी कोई वाकया नहीं हुआ है।

राहुल जौहरी ने आरोपों की बाबत 20 अक्टूबर को बीसीसीआई को अपनी सफाई देते हुए खुद को निर्दोष बताया थाण् वैसे बीसीसीआई की सात एसोसिएशनों ने भी सीओए को पत्र लिखकर जौहरी को हटाने की मांग की थी। राहुल के जवाब देने के बाद सीओ के सदस्यों की 20 और 22 अक्टूबर को मीटिंग हुई और काफी देर चली बैठक के बाद सीओए की दूसरी सदस्य और पूर्व भारतीय महिला कप्तान डायना एडुल्जी इस बात पर अड़ी हुई थीं कि जौहरी पर लगे आरोप गंभीर है और उनका बोर्ड का प्रतिनिधित्व करना बीसीसीआई के हित में नहीं है। ऐसे में उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए और अगर वह ऐसा नहीं करते हैंए तो उन्हे बर्खास्त किया जाना चाहिए। लेकिन सीओए के चेयरमैन विनोद राय की मुद्दे पर डायना से असहमति होने के कारण राहुल जौहरी बर्खास्तगी से बाल.बाल बच गए।

टिप्पणियां चेयरमैन विनोद राय ने जौहरी का यह कहते हुए बचाव किया कि इस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए क्योंकि ट्वीट किसी अज्ञात शख्स ने किया था। राय ने इस बात पर भी जोर दिया कि जौहरी पर ये आरोप उनके पिछले संस्थान में काम करने के दौरान लगे हैं। ऐसे में उचित कानूनी प्रक्रिया के तहत जौहरी को नैसर्गिक न्याय मिलना जरूरी है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

 

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …