Breaking News
Home / देश / यूपी में फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश
fraud

यूपी में फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

नयी दिल्ली। मेरठ पुलिस ने यूपी में फर्जी डिग्री बनाने वाले गिरोह के पर्दाफाश करने का दावा किया है। एसडीएम की टीम ने कम्प्यूटर सेंटर और दो प्रिटिंग प्रेस पर छापा मार कर दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी एजूकेशनल डिग्री बनाने के साथ साथ फर्जी डाक्यूमेंट बना कर बैंकों से लोन आदि भी दिलवाने का काम किया करते थे। पुलिस दल ने इन आरोपियों के पास से बैंकों, वकीलों पुलिस प्रशासन की 250 फर्जी मुहरें बरामद की हैं।

एसडीएम अंकुर श्रीवास्तव ने बताया कि मेरठ के मवाना में काफी समय से फर्जी कागजात बनाने और बैकों से फ्राड कर लोन कराने के समाचार आ रहे थे। इसका खुलासा किला परीक्षित गढ़ के जिला सहकारी बैंक से ऋण माफी के दौरान हुआ था। तहसील रिकार्ड में दर्ज कराये बिना फर्जी फरद तैयार कर ऋण लेने का मामला सामने आया था।

बीती रात एत्मादपुर निवासी राजदीप छापे के दौरान राजदीप नाम का शख्स तहसील टीम के हत्थे चढ़ गया। इसके बाद एसडीएम अंकुर श्रीवास्तव, तहसीलदार अमित कुमार व जयवेंद्र सिंह समेत टीम के अन्य सदस्यों ने सुभाष चैक के पास के बाजार में क्लासिक प्रिंटर्स पर छापा मारा। वहां से टीम को सरकारी अधिकारियों समेत बैंक, बिजली विभाग के अफसरों की भी मुहरें बरामद की। इसके अलावा फर्जी डिग्री और यूपी बोर्ड की फर्जी टीसी, मार्कशीट और प्रमाणपत्र भी उन लोगों के पास मिले। वहां पुलिस ने कल्याण सिंह निवासी जावेद को हिरासत में लिया और दोनों सेंटर्स को सील कर दिया। राजदीप को सरकारी गवाह बना कर छोड़ दिया गया है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

accident_onedeath

एक तरफ झण्डा रोहण दूसरी ओर मौत का मातम

नयी दिल्ली।बुधवार की सुबह सारा देश स्वतंत्रता दिवस के समारोह की तैयारी में जुटा था। …