Breaking News
Home / विदेश / भारत पर चीन के वाटर बम का खतरा
water bomb

भारत पर चीन के वाटर बम का खतरा

नयी दिल्ली। डोकलाम मुद्दे को लेकर भारत और चीन के बीच तनातनी का माहौल बन गया है। चीन और भारत ने अपनी अपनी फौजें वहां तैनात कर दी है। हाल में ही चीन और भारत के सैनिकों के बीच हुई मुठभेड़ का वीडियो भी वायरल हुआ है। 2013 में चीन ने भारत के तत्कालीन पीएम डा. मनमोहन सिंह के उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था जिसमें कहा गया था कि दोनों देश जल संधि में प्रवेश करने को तैयार हैं। वर्तमान हालात में अगर चीन ने ब्रह्मपुत्र पर बने बांध खोल दिया तो पूर्वोत्तर भारत में जल समाधि बन सकती है। करोड़ों की आबादी मौत के मुंह में समा सकती है। चीन एक भी गोली चलाये बिना वाटर बम छोड़ कर भारत को काफी धन जन की हानि पहुचा सकता है।

पिछले दो माह से डोकलाम विवाद को लेकर चीन और भारत एक दूसरे को नीचा दिखाने की कोशिश में लगे हैं। दोनों की जिद के चलते देश में कई बार ऐसा माहौल बना कि युद्ध होने जा रहा है। हाल में ही विदेश मंत्रालय ने यह बताया कि चीन ने पिछले तीन माह से वाटर डाटा साझा नहीं किये हैं। इससे पहले दोनों देशों ने आपस डाटा साझा किये हैं। ऐसे में पर्यावरण और सामरिक विशेषज्ञों की मानें तो चीन भारत पर वाटर बम का बेजा इस्तेमाल करने की मंशा रखता है। मालूम हो कि चीन ने गुपचुप तरीके से भारत आने जाने वाल नदियों पर कई बांध बना लिये हैं जो भारत के अनेक प्रांतों के लिये खतरा बन सकते हैं।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9News

Check Also

Argentina Police

महिला सिपाही ने ड्यूटी पर ऐसा क्या किया कि उसे मिल गया प्रमोशन

नयी दिल्ली। अर्जेंटीना में कुछ ऐसा हुआ जिसकी चर्चा दुनिया में हो रही है। एक …