Breaking News
Home / देश / यादव वंश की लड़ाई जा पहुंची सौतेली मां तक, अखिलेश के खिलाफ रची साजिश

यादव वंश की लड़ाई जा पहुंची सौतेली मां तक, अखिलेश के खिलाफ रची साजिश

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की सियासत इन दिनों यादव परिवार के इर्द-गिर्द मड़रा रही हैं। यादव परिवार का मतभेद इन दिनों अखिलेश की सौतेली मां तक पहुंच गया हैं। इस झगड़े की शुरूआत चाचा-भतीजे से शुरू हुई थी और अब मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता तक पहुंच गई थी।

पार्टी विधायक उदयवीर सिंह ने मुलायम सिंह यादव को चिट्ठी लिख घर के अंदर चल रही साजिश को सबके सामने रख दिया। अखिलेश के समर्थक उदयवीर ने साधना गुप्ता पर सीधे-सीधे अखिलेश के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया हैं।

इसे भी पढ़े : परिवारवाद से उपर उठ कर अखिलेश ले सकते हैं बड़ा फैसला

उदयवीर ने चिट्ठी में लिखा कि, जब 2012 में चुनाव के नतीजे अच्छे आए थे, तब अखिलेश कहते थे कि आप मुख्यमंत्री बनेंगे और आप अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाना चाहते थे। यह बात केवल आप दोनों के बीच थी मगर जैसे ही इसकी चर्चा बाहर आई तो घर में ही अखिलेश के खिलाफ षडयंत्र चालू हो गया।

उदयवीर आगे लिखते हैं कि, अखिलेश की सौतेली मां तो सामने नहीं आई मगर उनका राजनैतिक चेहरा बनकर शिवपाल जी ने पार्टी के तमाम नेताओं से बात कर इस निर्णय को रुकवाने का प्रयास किया। अखिलेश के समर्थक उदयवीर का कहना हैं कि पारिवारिक जलन से ऊर्जा प्राप्त शिवपाल जी तभी से ही अखिलेश का पीछा कर रहे हैं।

वक्त के साथ आपकी पत्नी समेत भाई, पुत्र व पुत्रवधु, रिश्तेदार और नेता जुड़ते गए और मुख्यमंत्री के खिलाफ साजिश रचने लगे। वो आगे लिखते हैं कि, आपने इन लोगों के दबाव में अखिलेश को कई बार अपमानित किया मगर उनकी तरफ कभी ध्यान नहीं दिया गया।

इसे भी पढ़े : पारिवारिक सियासत के बीच अखिलेश हैं मुख्य़मंत्री पद के दावेदार

गौरतलब हैं कि पारिवारिक विवाद इतना बढ़ गया था कि एक ओर मुलायम सिंह और शिवपाल तो दूसरी ओर अखिलेश और राम गोपाल यादव खड़े नजर आ रहे थे। 2003 में अखिलेश की मां की मौत हो गई थी और मुलायक की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता के बारे में करीबियों के सिवा किसी और को कोई जानकारी नही थी।

Next9News

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …