Breaking News
Home / देश / दहेज की बेदी पर फिर बलि चढ़ी एक और बेटी

दहेज की बेदी पर फिर बलि चढ़ी एक और बेटी

दहेज का दानव इस कदर हमारे समाज की मानसिकता पर हावी हो गया है कि इसका विकराल रूप में आये दिन देखने को मिलता रहता है। जिस बेटी को एक बाप बड़े प्यार से अपने घर की दहलीज से विदा करता है, उसे शायद ही इस बात का एहसास होता होगा कि एक दिन उसको…अपनी बेटी को..अपने जीते जी ही दुनिया को अलविदा कहते हुए देखना पड़ेगा। ऐसा ही एक दिल दहला देने वाला मामला बिहार के पूर्णियां जिले का है जहां पर रात को शिवाजी कॉलोनी में खुशबू सिन्हा जिनकी उम्र महज 30 साल की थी, उसकी गला रेतकर निर्मम तरीके से हत्या कर दी गई।

मृतिका के भाई अमित कुमार और उसके पिता उपेंद्र कुमार ने ग्राम एरो, थाना- वजीरगंज,जिला गया के फर्दबयान के आधार पर केहाट थाने में प्राथमिकी अभियुक्त दर्ज कराते हुए मृतिका के पति प्रवीण कुमार सिन्हा, देवर पवन कुमार सिन्हा समेत पिता विजय कुमार साकिन हनुमाननगर, थाना- लहेरी, जिला-नालंदा के विरुद्ध दहेज हत्या का केस दर्ज कराया है। पूर्णियां पुलिस अधीक्षक निशांत कुमार तिवारी के आदेश के तहत पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए इस मामले के मुख्य दोषी अभियुक्त प्रवीण कुमार सिन्हा को गिरफ्तार कर लिया है।

इधर मृतिका के शव का पोस्टमार्टम करा दिया गया है। इस मामले के मुख्य आरोपी प्रवीण कुमार सिन्हा को जेल भेजा जा रहा है। इस मामले में जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने दहेज़ हत्या का कांड दर्ज करके जेल भेज दिया है, वहीं दूसरी तरफ मृतिका के परिजनों का भी कहना है, कि पिछले 2 महीनों से लड़की के ससुराल वाले कार की मांग कर रहे थे। खुशबू सिन्हा का पति दहेज की मांग करते हुए अपनी पत्नी से खूब लड़ाई झगड़ा किया करता था। ख़ैर आगे इस मामले में क्या कुछ सामने आता है यह देखने वाली बात होगी

 

अनवर हसन

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …