Breaking News
Home / देश / भ्रष्टाचार का अड्डा बना 600 करोड़ की जमा पूंजी वाला दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक
udit raj

भ्रष्टाचार का अड्डा बना 600 करोड़ की जमा पूंजी वाला दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक

नई दिल्ली। डाॅ. उदित राज ने कहा कि दिल्ली नागरिक सहकारी बैंक भ्रष्टाचार का अड़डा बन गया है। जनता के पैसांे से बने बैंक को लूट से बचाने के लिए महीनों से तमाम सदस्य अपनी शिकायत लेकर मिलते रहे हैं। बैंक का प्रधान कार्यालय लिबर्टी सिनेमा के सामने करोलबाग, न्यू रोहतक रोड पर है। बैंक में भ्रष्टाचार करने में अग्रणी भूमिका पूर्व चेयरमैन व निदेशक जयभगवान और राजेश शर्मा की हैं। सन 2011 से लेकर 2014 के बीच बडे घोटाले हुए और तभी इसी वजह से 2014 से 2017 तक प्रशासक नियुक्त किया गया। वर्तमान में जयभगवान के पुत्र दिनेश कुमार एवं राजेश शर्मा के भाई प्रदीप शर्मा भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। बैंक की जमा राशि लगभग 600 करोड़ है।

अनियमितता की पराकाष्ठा का इससे पता लगता है कि केवल 7 प्रतिशत वोट से वर्तमान प्रबंधन समिति कार्यरत है। कुल सदस्य संख्या लगभग 65 हजार है और चुनी हुई समिति के चुनाव में भाग लेने वाले मात्र 4 से 5 हजार सदस्य थे। प्रबंधन समिति अपना वोट बढ़ाने के लिए खुद बैंक से लोगों के खाते में जमा करा देते हैं और उसी पैसे की वापसी से फर्जी सदस्य बनाये जाते हंै। प्रबंधन और निर्देशक परिवार के कुल 40 कर्मचारी-चपरासी से लेकर क्लर्क तक बिना योग्यता के नियुक्त किए गए थे और जांच के बाद उन्हें हटाया गया। इसी तरीके से अपने रिश्तेदारों और चाहने वालों को बिना योग्यता पूर्ति के पदोन्नत्ति कर दिया गया। और जांच के बाद डिमोट किया गया।

बैंक प्रबंधन के भ्रष्टाचार के कारण लगभग 100 करोड़ का लोन बंदर बाट कर दिया गया। जिनके कागजात आदि दुरूस्त नहीं थे जिन फर्जी दस्तावेज को दिखाकर लोन दिए गय थे उनको श्री उमेश शर्मा ने स्वीकार किया। इन अनियमताओं के खिलाफ 60 शिकायतें और 5 एफआईआर दर्ज हुए हैं।

डाॅ. उदित राज ने 2014 में इस प्रकरण को संसद में भी उठाया था लेकिन उचित कार्यवाही नहीं हो पाई। उसके बाद से लगातार डाॅ. उदितराज ने पिछले वर्ष दिल्ली के उपराज्यपाल का दरवाजा खटखटाया तो उन्होने इस बैंक घपले की जांच के संबध में आरबीआई, इओडल्बू, एसीबी को लिखा गया। इससे यह स्पष्ट होता है कि उपराज्यपाल स्वयं इस भ्रष्टाचार से अनजान नही हैं। बैंक पिछले तीन सालों से लगातार घाटे में चल रहा है। लूट का आलम यह है कि 30 लाख से ज्यादा के ऊपर दिवाली गिफ्ट बाँट दिये गये। उपरोक्त परिस्थितियों देखते हुए तुरंत कार्य होनी चाहिए।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

indore-girl-chemical-attack

सेलिब्रिटी लड़की ने शादी से मना किया तो युवक ने चेहरे पर डाला एसिड

नयी दिल्ली। मध्य प्रदेश के इंदौर में 21 साल की युवती के उपर केमिकल अटैक …