Home / देश / क्राइम / डेरा प्रमुख यौन शोषण दोषी, दस साल की सजा सुनाई
ram-rahim

डेरा प्रमुख यौन शोषण दोषी, दस साल की सजा सुनाई

नयी दिल्ली। लगभग 15 साल पहले डेरा में रहने वाली साध्वी के साथ रेप करने के आरोप में डेरा प्रमुख राम रहीम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने दस साल की कड़ी सजा सुनाई है। रोहतक की सुनारिया जेल में आज जस्टिस जगदीप सिंह ने डेरा प्रमुख के वकीलों और सीबीआई के अधिवक्ताओं की दलीलों को सुना। दलीलों को सुनकर जज ने लगभग 3.35 पर बाबा राम रहीम को दस साल की सख्त सजा सुनाई। इसके अलावा उन पर आर्थिक जुर्माना भी लगाया गया। सजा के ऐलान होते ही बाबा ने जज से रोते हुए रहम की मांग की। लेकिन जुर्म की गंभीरता को देखते हुए सजा को बरकार रखा। हरियाणा सरकार ने बाबा को सजा सुनाने के बाद प्रदेश में अमन शांति बनाए रखने के लिये एक उच्च स्तरीय बैठक को बुलाया है जिसमें प्रदेश के उच्चाधिकारियों को शामिल किया गया है।

2002 में सिरसा के डेरे में रहने वाली एक साध्वी के साथ डेरा प्रमुख राम रहीम ने उसका दैहिक शोषण किया। साथ ही यह धमकी दी कि यदि उसने इसके बारे में किसी को बताया तो उसे उसके परिवार के साथ मौत के घाट उतार दिया जायेगा। उसकी पहुंच सरकार और पुलिस व प्रशासन में है। कोई भी तुम्हारे काम नहीं आयेगा। इस पर उस साध्वी ने अपने साथ हुए जुल्म को किसी तरह तत्कालीन पीएम अटल बिहारी तक पहुंचाया। पीएमओ ने शिकायत मिलने पर डेरा प्रमुख के खिलाफ जांच शुरू कर दी। लेकिन प्रदेश की सरकारों द्वारा राजनीतिक लाभ लेने की वजह से डेरा प्रमुख के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। मामला सीबीआई के पास गया तो प्रदेश की इनेलो सरकार सीबीआई के खिलाफ कोर्ट चली गयी।

15 साल 25 अगस्त 2017 को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने बाबा को रेप का दोषी पाया और 28 अगस्त को सीबीआई के स्पेशल कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने बाबा को दस साल की कड़ी सजा का ऐलान कर दिया है। बाबा को सजा की घोषणा होते ही डेरा समर्थक उग्र हो गये और पंचकुला समेत पूरे हरियाणा में हिंसक उपद्रव करने लगे। इन दंगों में 38 लोगों की मौत हुई। उपद्रव के दौरान मीडिया को भी निशाने पर रखते हुए उनकी ओबी वैन को भी आग को हवाले किया।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

pregnant

प्रेग्नेंट औरतें पेनकिलर का न करें सेवन, नपुंसक होने की आशंका

नयी दिल्ली। अक्सर गर्भवती औरतों को एलोपैथ की दवाएं दर्द से छुटकारा पाने के लिये …