Breaking News
Home / टेली मसाला / इस कुत्ते को हुआ अपने मालिक से इस कदर प्यार, हो जाएंगे हैरान
hachiko

इस कुत्ते को हुआ अपने मालिक से इस कदर प्यार, हो जाएंगे हैरान

ये कहानी 1924 की है। जब ईज़बूरो ईनो टोक्यो यूनिवर्सिटी में एग्रीकल्चर साइंस के प्रोफेसर थे। बहुत दिनों से वो अकीटा ब्रीड के एक डॉग को ढूंढ रहे थे और उनकी ये खोज ओडेट शहर में खत्म हुई। जहां उन्हें एक प्यारा सा पपी मिला। जो अकीटा ब्रीड का ही था। उस कुत्ते का नाम था हचीको था। प्रोफेसर ईनो उसे प्यार से हची बुलाते थे। धीरे-धीरे प्रोफेसर और हचीको में गहरी दोस्ती हो गई। प्रोफेसर ईनो हचीको को अपने बेटे की तरह प्यार करने लगे। हचीको प्रोफेसर को हर रोज सेंट्रल टोक्यो के शिबूया रेलवे स्टेशन तक छोड़ने जाता।

प्रोफेसर के जाने के बाद हचीको स्टेशन पर ही घंटों इंतजार करता और जब प्रोफेसर काम से वापस लौटते तो हचीको उन्हें लेकर घर आता। इन दोनों के लिए ये एक डेली रुटीन बन चुका था।

ऐसे ही 21 मई 1925 को हर दिन की तरह हचीको प्रोफेसर को छोड़ने गया और स्टेशन पर बैठ कर इंतजार करने लगा। प्रोफेसर ईनो सेरेब्रल हैमरेज की दिक्कत से जूझ रहे थे और  यूनिवर्सिटी में लेक्चर के दौरान ब्रेन हैमरेज से उनकी मौत हो गई। साथ ही प्रोफेसर के जाने के बाद उनके गॉर्डनर ने हचीको को गोद ले लिया, लेकिन प्रोफेसर के लिए उसका प्यार कम नहीं हुआ। उस दिन के बाद से वो हर रोज प्रोफेसर ईनो का स्टेशन पर इंतजार करता सुबह-शाम जब भी प्रोफेसर की ट्रेन आती वो देखने जाता फिर वापस चला आता। हचीको ने ये काम 9 साल, 9 महीने और 15 दिन तक लगातार किया।

इसके बाद 18 मार्च 1935 को हचीको की टर्मिनल कैंसर की वजह से हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह गया। हालांकि हचीको की मौत टर्मिनल कैंसर की वजह से हुई है.. हचीको की समाधि प्रोफेसर ईनो की समाधि के ब में ही बनाई गई है। 1987 में जापान में इसके ऊपर फिल्म भी बनी जिसका नाम Hatchiko Monogatari  है।. 2009 में हॉलीवुड ने भी हचीको के ऊपर फिल्म बनाई … जिसका नाम था “Hachiko–A Dog`s Tale” था। इस फिल्म में रिचर्ड गेर ने काम किया था और दोनों ही फिल्मों को लोगों ने काफी पसंद किया था। इंडिया में भी हचीको के ऊपर फिल्म बन चुकी है जिसका नाम  है टॉमी ये फिल्म तेलुगू में बनी थी।

Check Also

Molkki

BAD NEWS: MOLKKI की कहानी का होगा THE END? जानिए ये REPORT

कलर्स टीवी पर टेलीकास्ट हो रह रहे सीरियल “मोल्क्की” की कहानी में कई सारे दिलचस्प …