Home / देश / गौरी लंकेश को मरणोपरांत मिला पोलितकोवस्काया अवॉर्ड’  अंतरराष्ट्रीय सम्मान
gauri lankesh

गौरी लंकेश को मरणोपरांत मिला पोलितकोवस्काया अवॉर्ड’  अंतरराष्ट्रीय सम्मान

नई दिल्ली –वरिष्ठ कन्नड़ पत्रकार व सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश को मरणोपरांत ‘एन्ना पोलितकोवस्काया अवॉर्ड’ के लिए चुना गया है। इस अवॉर्ड की घोषणा इंग्लैंड की रीच ऑल वुमेन इन वॉर (रॉ इन वॉर) की ओर से मंगलवार की गई है। उनके साथ ही तालिबान का विरोध करने वाली पाकिस्तान की सामाजिक कार्यकर्ता गुलालाई इस्माइल को सह-विजेता के रूप में घोषित किया गया है।

रीच ऑल वूमन इन वॉर (रॉ इन वॉर) ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि वरिष्ठ भारतीय पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश एन्ना पोलितकोवस्काया जैसी थीं दिवंगत पत्रकार गौरी लंकेश की बहन कविता ने इस अवॉर्ड को उन सभी पत्रकारों का हौसला बढ़ाने वाला बताया है जो समाज के लिए लिखना और लड़ना चाहते हैं। समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘गौरी इस बात का प्रतीक थीं कि उन्हें चुप नहीं कराया जा सकता। यह अवॉर्ड इसी रुख का सम्मान है।’

बता दें कि लंदन स्थित संस्था रॉ इन वॉर यह अवॉर्ड रूसी पत्रकार एन्ना पोलितकोवस्काया के नाम पर देती है। एन्ना पोलितकोवस्काया की सात अक्टूबर 2006 को मास्को में सरकारी भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग की रिपोर्टिंग करने के लिए हत्या कर दी गई थी। गौरतलब है कि गौरी लंकेश कन्नड़ भाषा की साप्ताहिक पत्रिका ‘गौरी लंकेश पत्रिका’ की संपादक थीं।इसकी खासियत ये थी कि आज के कोर्पोरेट युग में उस मैगजीन में कोई ऐडवरटाइजमेंट नहीं लिया जाता था। उस पत्रिका को 50 लोगों का एक ग्रुप चलाता था।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

shashi

मेरे पास मां है कहने वाली आवाज हुई खामोश

नयी दिल्ली। भारतीय और विदेशी फिल्मों में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा चुके बलबीर राज …