Breaking News
Home / देश / कर्मचारियों को कुशल बनाने और तकनीकी देने में सरकार और उद्योगजगत की हिस्सेदारी होनी चाहिये-प्रधान
ficci

कर्मचारियों को कुशल बनाने और तकनीकी देने में सरकार और उद्योगजगत की हिस्सेदारी होनी चाहिये-प्रधान

नयी दिल्ली। आज के समय में कर्मचारियों को आधुनिक तकनीकी की जानकारी और स्किल करने में भारतीय उद्योगपतियों और सरकार में सामूहिक भागीदारी होनी चाहिये। इस सहयोग से प्राइवेट सीक्योरिटी इंडस्ट्री फील्ड में 20-25 फीसदी की बढ़ोतरी देखी जा रही है। यह विचार केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान में फिक्की आॅडिटोरियम में आयोजित प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री काॅन्क्लेव 2018 में व्यक्त किये। फिक्की द्वार इस काॅनक्लेव का थीम नौकरियों के अवसर और कौशल विकास था।

श्री प्रधान ने कहा कि हमें मिलकर यह प्रयास करना है कि जन सामान्य आर्थिक से मजबूत हो। बाहर के देशों में यह व्यवस्था की जा रही है कि कर्मचारियों के प्रशिक्षण, पुनःप्रशिक्षण और उच्च प्रशिक्षण के लिये प्राइवेट इंडस्ट्रीज और सरकार सामूहिक रूप से जिममेदारी निभा रहे हैं। इससे वहां के आर्थिक हालात में काफी सुधार आया है। इस वक्त देश में कुशल कर्मचारियों की बड़ी तादाद में जरूरत है। कर्मियों युवाओं को प्रशिक्षण की बहुत जरूरत है।

प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री ने आश्वासन दिलाया है कि आरपीएल प्रोजेक्ट के तहत वो 3.17 लाख लोगों को सिक्योरिटी फील्ड में स्किल किया जायेगा। एमईपीएससी और प्राइवेट सिक्योरिटी कंपनियों के बीच 17 एमओयू हुए हैं। इस अवसर पर श्री प्रधान ने दिल्ली एनसीटी, यूपी, हरियाणा के उत्कृष्ट प्रर्दशन करने वाली संस्थाओं को सम्मानित भी किया। हिमाचल प्रदेश को विशेष ज्यूरी अवार्ड से सम्मनित किया गया।
इस मौके पर फिक्की प्राइवेट सिक्योरिटी कमेटी की सलाहकार मंजरी जरुहार, फिक्की प्राइवेट सिक्योरिटी इडस्ट्रीज चेयरमैन रितुराज सिन्हा, एसआईएस गु्रप के राजीव शर्मा ने अपने अपने विचार मंच पर रखे।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …