Breaking News
Home / देश / तलवार की धार पर है हरियाणा सरकार, राम रहीम के साथ रामपाल पर भी आ सकता है फैसला
collage

तलवार की धार पर है हरियाणा सरकार, राम रहीम के साथ रामपाल पर भी आ सकता है फैसला

नयी दिल्ली। हरियाणा की खट्टर सरकार पर मुसीबतें एक के बाद एक टूटती जा रही है। पिछले एक सप्ताह से पूरे प्रदेश में बाबा राम रहीम को लेकर माहौल गरमा गया है। 25 अगस्त को बाबा के द्वारा यौन शोषण मामले का फैसला सीबीआई कोर्ट देने जा रही है। इस बात को लेकर बाबा के समर्थकों में काफी उत्तेजना है। पंचकुला की सीबीआई कोर्ट में बाबा को पेश होना है। अगर बाबा कोर्ट में पेश नहीं होते हैं तो कोर्ट पुलिस को यह आदेश दे सकती है कि बाबा को अरैस्ट कर अदालत में पेश करे। वैसे हरियाणा सरकार ने आसपस के प्रदेशों की सीमाओं को सील कर दिया है। स्थानीय प्रशासन ने किसी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिये पर्याप्त इंतजाम करने का दावा किया है। लेकिन यह बात भी सामने आ रही है कि बाबा के समर्थक लाखों की संख्या में पंचकुला पहुंच गये हैं। ऐसे में प्रदेश सरकार के दावों की पोल खुलती नजर आ रही है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पंजाब और हरियाणा प्रशासन ने कुछ इलाकों में 4 हजार अर्धसैनिक बल के साथ प्रदेश पुलिस के जवान भी तैनात किये हैं। पंचकुला स्थित सीबीआई कोर्ट के आस पास प्रशासन ने दफा 144 लागू कर दी है। सुरक्षा के लिहाज से 24 व 25 अगस्त को स्कूलों और सरकारी गैर सकारी कार्यालयों को बंद रखने का आदेश दिया गया है। पूरे इलाके पर निगरानी के लिये ड्रोन की मदद ली जा रही है।

हरियाणा सरकार को सिर्फ बाबा राम रहीम के समर्थकों से ही नहीं निपटना है बल्कि सिरसा के बाबा रामपाल सिंह के समर्थकों से भी निपटना होगा। नवंबर 2014 में उन पर भी सरकारी कार्य में बाधा डालने और रास्ता रोक कर बंधक बनाने के दो मामले चल रहे हैं उन पर कभी भी फैसला आ सकता है। एक मामले में बाबा समेत पांच लोग और दूसरे मामले में छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …