Breaking News
Home / देश / चुनाव स्पेशल / हाईकोर्ट में स्मृति ईरानी की डिग्री मामले की सुनवायी सितंबर में
smriti-irani-fake-degree-row

हाईकोर्ट में स्मृति ईरानी की डिग्री मामले की सुनवायी सितंबर में

नयी दिल्ली। 11 साल पहले एक व्यक्ति ने कैबिनेट मंत्री स्मृति ईरानी की शैक्षिक प्रमाणपत्र पर सवाल उठाते हुए यह आरोप लगाया कि उन्होंने अपने तीन चुनावी शपथ पत्रों में अलग-अलग जानकारियां दी हैं। तीनों हलफनामे आपस में मेल नहीं खाते हैं। अब इस मामले की सुनवायी दिल्ली हाईकोर्ट में सितंबर माह में की जायेगी।

कैबिनेट मंत्री स्मृति ईरानी की डिग्री मामले पर दिल्ली हाई कोर्ट ने ट्रायल कोर्ट के रिकार्ड मांगे हैं। इस मामले की सुनवायी 13 सितंबर को की जायेगी। इससे पहले अक्टूबर 2016 को पटियाला हाउस कोर्ट ने 11 साल की देरी का कारण बताते हुए याचिका को खारिज कर दिया था। इससे स्मृति ईरानी को बड़ी राहत मिली थी। चुनाव आयोग को दिये गये हलफनामों पर पहले भी सवाल उठ चुके हैं। कोर्ट ने इस मामले में श्रीमती ईरानी को समन भेजने से इनकार कर दिया था। कोर्ट का यह मानना था कि इस मामले की शिकायत करने में 11 साल लग गये इससे जाहिर होता है कि किसी ने मंत्री को परेशान करने की मंशा से शिकायत की है।

फ्रीलांस लेखक अहमद खान ने मंत्री के खिलाफ कोर्ट में शिकायत दर्ज की थी कि उन्होंने स्मृति ने चुनावी हलफनामों में अलग-अलग शैक्षणिक योग्यता का ब्यौरा दिया था। पिछले दो चुनावों में स्मृति ईरानी ने एफिडेविट आपस में मेल नहीं खाते हैं। इनमे एक शपथ पत्र में स्मृति ने खुद को बीए तो दूसरे में बीकाम बताया है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …