Home / Blog / दिल्ली में बढ़ता प्रदूषण…
delhi pollution

दिल्ली में बढ़ता प्रदूषण…

दिल्ली कहतें हैं की यहां सपने सच होते हैं। देश भर से लाखों लोग अपने गांव-शहरों को छोड़कर राजधानी दिल्ली में आते हैं। पर आज इसी सपनों के शहर दिल्ली कि गिनति विश्व के चार सबसे अधिक प्रदूषित शहरों में होती है। लगभग 4.6 करोड़ लोग वायु प्रदूषण से होने वाली बीमारियों से ग्रसित हैं। जैसे- अस्थमा, Elergy, आदि।

आजादी के बाद दिल्ली ने विकास तो किया पर कुछ सम्सयायें भी उत्पन हुई और इन सभी सम्सायों में प्रदूषण सबसे बड़ी सम्सया बन के उभरी। W.H.O कि 1989 के एक रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली प्रदूषण के मामले में विश्व में चौथे स्थान पर था पर आज हालात ऐसे हो गए हैं जो बताते हैं कि, सऊदी अरब में रियाद के बाद दिल्ली दुनिया में सर्वाधिक प्रदूषित शहर है।।

दिल्ली प्रदूषण में का कारण औद्गिकरण तो है ही पर उस से भी बड़ा कारण दिल्ली में तेजी से बढ़ रही वाहनो कि संख्या है। रिपोर्टों के मुताबिक दिल्ली में 30 प्रतिशत वायु प्रदूषण औद्योगिक इकाइयों के कारण है, जबकि 70 प्रतिशत वाहनों के कारण है।

कारण चाहे जो भी हो पर दिनों-दिन दिल्ली में बढते प्रदुषण को रोकने के लिए हमें कुछ तो करना ही होगा। जैसे- धुंए वाले वाहनों को कम से कम इस्तेमाल करना, अपने घरों में पेड़ पोधों को ज्यादा से ज्यादा लगाना। क्योंकी दिन- प्रतिदिन राजधानी दिल्ली कि हवा इतनी जहरीली होती जा रही जिससे आने वाले समय में शायद हम सांस भी ठीक से न ले पाएं।

यूं तो लोग कहेंगे कि प्रदूषण एक पुराना और रटा-रटाया मामला है पर अगर हम और हमारी सरकार अभी जागरुक नही हुई। तो आने वाले समय में शायद हम अपनी खूबसूरत और प्यारी दिल्ली का वजूद ही खो दें।

अनिता झा के निजी विचार

Next9News

Check Also

d-roopa

भ्रष्टाचार के खिलाफ सोशल मीडिया के अलावा हम कर ही क्या सकते हैं ?

एक खबर आई है, जी हां खबर आई है कर्नाटक से। कर्नाटक के 2000 बैच …