Breaking News
Home / देश / कहां खो गया स्वतंत्रता दिवस मनाने का उत्साह

कहां खो गया स्वतंत्रता दिवस मनाने का उत्साह

एक वो दौर था जब लोगों के चेहरे पर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर एक अलग ही रौनक देखने को मिलती थी। इस दिन का बड़ी ही बेसब्री से इंतजार रहता था। गलियों से होकर जब आप गुजरते थे तो एक अलग ही तरह का हो-हल्ला सुनाई देता था। ऐसा हो-हल्ला जो हर किसी के अंदर एक अलग सी चाह और उमंग पैदा करता था। ऐसा हम बिल्कुल नहीं कह रहें कि अब ये सब चीजें पूरी तरह से खत्म हो चुकी है। कहने को तो हमारा देश आज भी 70वें स्वतंत्रता दिवस के रंग में रंगा हुआ है। जगह-जगह अलग अलग तरीके कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है स्कूलों में भी शान से तिरंगा फहराया जा रहा है, लेकिन कुछ तो है जो खल रहा है जिसकी कमी महसूस हो रही है।

यूं तो ये दिन है उन स्वतंत्रता सैनानियों का शहादत को याद करने का उनके प्रति आत्म समपर्ण करने का उन्हें शत् शत् नमन करने का जिनकी बदौलत आज हम खुली हवा में सांस ले पा रहे हैं। किसने सोचा होगा किसने कल्पना की होगी कि ऐसा भी कभी होगा लेकिन वो कहते हैं सच्चा संघर्ष कभी व्यर्थ नहीं जाता है और ये उसी अथक संघर्ष का नतीजा है। जो आज हम अपनी जिंदगी खुलकर बेखौफ हो कर जी पा रहे हैं। चंद पंक्तियां लिखकर उनके संघर्ष को तो खैर हम बयां ना कर पायें लेकिन हां इतना जरुर है इन शब्दों के जरिए उनके संघर्ष की एक धूमिल की रेखा को छू जरुर सकते हैं।

लेकिन हम तो इस आधुनिकता की दौड़ में सब कुछ भूल कर अपने में ही मगन है, कहने को तो साल में 365 दिन होते हैं लेकिन क्या आपके पास एक दिन भी ऐसा नहीं है क्या, जिसमें आप देश के जरूरत मंद लोगों तक मदद पहुंचाये, ताकि वो भी आज़ादी के जश्न में शामिल हो सकें।

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …