Breaking News
Home / देश / आम आदमी पार्टी का नाम बदलकर ध्यान भटकाऊ पार्टी रख देना चाहिए – मनोज तिवारी
DEL BJP

आम आदमी पार्टी का नाम बदलकर ध्यान भटकाऊ पार्टी रख देना चाहिए – मनोज तिवारी

नई दिल्ली।  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली सरकार हर मोर्चे पर विफल और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल झूठ के सौदागर साबित हो चुके हैं। मैं जिस भी वार्ड में जा रहा हूं वहां लोगों में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। या तो पानी नहीं है या फिर दूषित पानी की आपूर्ति की जा रही है। लोकपाल और ईमानदारी के शोर में उपजी आम आदमी पार्टी के एजेंडे में न लोकपाल है और न ईमानदारी। बिजली हाफ और पानी माफ के बाद 1 फरवरी से केजरीवाल पर सरकार के राज में बिजली के दाम बढ़ रहे हैं और जनता को पानी के दर्शन दूभर हो गए हैं। दिल्ली की जनता पानी और बिजली की किल्लत से त्राहि त्राहि कर रही है और सरकार के मुखिया केजरीवाल सदन से गायब हैं।

प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा दिल्ली की जनता के अपार समर्थन के बाद आम आदमी पार्टी की सरकार तो बनी पर उसके मंत्री और विधायकों के नाम नए नए कारनामे दर्ज होने लगे। केजरीवाल सरकार के विधायक और मंत्री बलात्कार, महिला उत्पीड़न, भ्रष्टाचार हवाला कारोबार और फर्जीवाड़े के बड़े-बड़े कीर्तिमान स्थापित करने लगे। सत्ता में आने से पहले हर बात पर रायशुमारी करने वाले केजरीवाल की जवाबदेही की बारी आती है तो हर बार दिल्ली की जनता का ध्यान भटकाने के लिए कोई नया शगूफा छेड देते हैं। हताशा ऐसी बढ़ी कि आम आदमी पार्टी और कांग्रेस एक दूसरे में समाने की बात करने लगे हैं

मनोज तिवारी ने कहा कि अपने शासनकाल का हिसाब देने के लिए केजरीवाल के पास कुछ नहीं रहा तो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग का राग अलाप रहे हैं उनके इस ढोंग के पीछे उनकी नाकामियां छुपी नहीं है और वह एक बार फिर जनता का ध्यान भटकाना चाहते हैं उन्होंने सलाह दी कि केजरीवाल दिल्ली की मूलभूत सुविधाएं देने और समस्याओं के समाधान में नाकाम रहे हैं। आम आदमी पार्टी और केजरीवाल को ध्यान भटकाने में महारत हासिल है इसलिए उन्हें अपनी अकर्मण्यता के अनुसार अपनी पार्टी का नाम भटकाऊ पार्टी रख लेना चाहिए।

NEXT9NEWS

Check Also

accident_onedeath

एक तरफ झण्डा रोहण दूसरी ओर मौत का मातम

नयी दिल्ली।बुधवार की सुबह सारा देश स्वतंत्रता दिवस के समारोह की तैयारी में जुटा था। …