Breaking News
Home / देश / चुनाव स्पेशल / मोदी-शाह की लहर कायम, कौन बनेगा यूपी का कर्णधार
pm-modi-rally

मोदी-शाह की लहर कायम, कौन बनेगा यूपी का कर्णधार

नयी दिल्ली। रुझानों की मानें तो यूपी में मोदी लहर के आगे विरोधी दल नतमस्तक हो गये हैं। सबसे ज्यादा नुकसान बहुजन समाज पार्टी को होता दिखता है। शुक्रवार युपी की राजधानी में एक पोस्टर दिखा था उसमें लिखा था हाथी भटका, साइकिल पंक्चर, विरोधियों को झटका। चुनाव के रुझानों से यह साबित होता दिख रहा है।

इन रुझानों से जहां बीजेपी कार्यकर्ताओं में खुशी का पारावार नहीं है वहीं बसपा, सपा और कांग्रेस को बड़ा झटका लग रहा है। अगर यूपी में अगर बीजेपी की पूर्ण बहुमत में सरकार बनाती है तो उप्र प्रदेश की बागडोर किस भाजपा विधायक को दी जायेगी यह एक शोध का विषय होगा। क्यों कि भाजपा नेताओं की एक लंबी फेरिश्त है जिसमें सीएम पद के लिये कश्मकश चल जायेगी।

यूपी में यह कहा जा रहा है कि सिंहासन खाली करो कि अब भाजपा की बारी है। इस चुनावी जीत से भाजपा का यूपी में 15 साल का वनवास खत्म होने जा रहा है। वहीं क्षेत्रीय दलों का पतन होता दिख रहा है। विपक्ष के पुरजोर विरोध के बावजूद प्रदेश में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनने जा रही है।

इससे साफ जाहिर हो रहा है कि मोदी शाह फैक्टर यूपी चुनाव में अभी कायम है। अब भाजपा के लिये विचार करने का विषय यह होगा कि प्रदेश की बागडोर किस के हाथों में सौंपी जाये। यह एक चिंता का विषय हो सकता है। क्योंकि सीएम की उम्मीदवारी के लिये कई कद्दावर नेताओं के नाम चर्चा में हैं।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, सुनील बंसल, केशव प्रसाद मौर्य, बीजेपी उपाध्यक्ष व लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा, योगी आदित्यानाथ, भाजपा प्रवक्ता और राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा और उमाभारती के नाम पर भी विचार किया जा सकता है। यह भी हो सकता है कि सीएम पद के लिये संघ की तरफ से किसी अन्य के नाम पर मुहर लग सकती है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …