Breaking News
Home / देश / नोट बदलने आए बुजुर्ग की हुई मौत

नोट बदलने आए बुजुर्ग की हुई मौत

नई दिल्ली : नोटबंदी फैसले के बाद देश के तमाम बैंकों और एटीएम में खासा भीड़ लगी हैं। बता दे कि नोटबंदी का फैसला जानलेवा साबित हो रहा हैं। मध्यप्रदेश के सागर में एक बुजुर्ग ने बैंक में करेंसी चेंज करने की लाइन में खड़े-खड़े ही दम तोड़ दिया।

इसे भी पढ़े : 500-1000 नोटबंदी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर…

बता दे कि 69 साल के विनोद पाण्डे सरकार के द्वारा नोटबंदी फैसले के बाद बैंक की ओर निकल गए। विनोद पाण्डे अपने पुराने नोटों को सागर के मकरोगिया के यूनियन बैंक में बदलने आए थे लेकिन घंटों में कतार में खड़े रहने के बावजूद उनका नम्बर नहीं आया।

धूप में काफी देर से खड़े थे कि अचानक विनोद पाण्डे गिर पड़े। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया मगर एम्बुलेंस समय से नहीं आ पाई औऱ विनोद पाण्डे को अपनी जान गवाना पड़ा। डॉक्टर के द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक विनोद पाण्डे को दिल का दौर पड़ा था।

सरकार के द्वारा लिए गए इस फैसले के बाद देश का आवाम परेशान हैं, भूखा प्यासा हैं। अभी तक स्थित नहीं सुधर सकी हैं। वहीं विनोद पाण्डे के बेटे बैंक का हाल बताकर रो रहे हैं। यह हाल केवल मध्यप्रदेश के सागर का ही नहीं बल्कि देश के तमाम हिस्सों का हैं।

इसे भी पढ़े : 500 और 1000 के नोट बंद, आपातकाल की स्थिति पैदा होने के आसार

बैंकों और एटीएम के बाहर लोग तड़के सबेरे से ही कतार लगाए खड़े हैं, अस्पतालों में सही ढ़ग से इलाज नहीं हो पा रहा हैं, लोग दम तोड़ रहे हैं। सरकार ने इस फैसले को लेते वक्त कहा कि बस कुछ दिनों की परेशानी उठानी पड़ेगी मगर आलम यह हैं कि थोड़ी परेशानी के नाम पर कोई अपने पिता को खो दिया तो कोई पिछले कुछ दिनों से भूखा रह गया।

Next9News

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …