Breaking News
Home / देश / अक्टूबर में किसानों को लुभाने के लिये यूपी सरकार का कृषि कुंभ का आयोजन
krishi kumbh 2018

अक्टूबर में किसानों को लुभाने के लिये यूपी सरकार का कृषि कुंभ का आयोजन

नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश सरकार ने कृषि को राज्य की अर्थव्यवस्था की रीढ़ बताते हुए खेती बाड़ी और कृषि आधारित उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए केन्द्र की मदद से कृषि कुंभ मेला आयोजित करने की घोषणा की. इसका आयोजन 26-28 अक्तूबर तक लखनऊ में भारतीय गन्ना अनुसंधान परिसर में किया जायेगा। राज्य के कृषि पशुपालन और कृषि मंडी विभाग के मंत्रियों और संबंधित विभागों के अधिकारियों ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की। कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा उत्तर प्रदेश कृषि कुंभ में राज्य के सभी 75 जिलों के चुनिंदा किसान  राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय ख्यातिप्राप्त कृषि वैज्ञानिक केन्द्र और राज्य सरकार के विभिन्न् औद्योगिक संस्थाओं के प्रतिनिधि और नीति निर्धारक भाग लेंगे।

प्रेसवार्ता के दौरान यूपी के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही को पत्रकारों के तीखे सवालों का सामना पड़ा शायद ऐसे हालात की किसी को उम्मीद भी नहीं थी। सवालों के बचाव में यूपी के आलाधिकारियों को भी उतरना पड़ा। लेकिन पत्रकार सवाल पर सवाल दागते रहे। वहां मौजूद अन्य विभागीय मंत्री भी सवालों से बचते नजर आने लगे।

शाही ने कहा कृषि उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है. प्रदेश में 2.33 करोड़ परिवार खेती बाड़ी में लगे हैं जिनमें 92 प्रतिशत छोटे किसान हैं।  प्रदेश की कुल आबादी के करीब 68 प्रतिशत लोगों के आय का मुख्य जरिया भी यही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को उम्मीद है कि कृषि कुंभ 2018 के जरिये किसानों और कृषि से जुड़ी कंपनियों के लिए विकास के अवसर के नये द्वार खुलेंगे। यह आयोजन वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लक्ष्य को हासिल करने में प्रदेश के लिए मददगार साबित होगा।

उत्तर प्रदेश में समृद्धि कृषि व्यवसाय हेतु शुभ अवसरों के सृजन एवं किसानों की आय दोगुनी करने हेतु संकल्पित कृषि कुंभ 2018 का आयोजन दिनांक 26-28 OCT 2018 को भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान तेलीबाग रायबरेली रोड लखनऊ में किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इससे किसानों तक खेती की लागत को कम करने और उत्पादकता बढ़ाने की नई नई प्रौद्योगिकियों के प्रसार और कृषि ऊपजों के प्रसंस्करण और विपणन आदि में सुधार लायेगा। इस मेले का उद्देश्य किसानों, तकननीकी विशेषज्ञों और व्यवसायियों को एक ऐसा साझा मंच प्रदान करना है जहां वे कृषि उत्पदन खाद्य प्रसंस्करण विपणन, कृषि के आधुनिक तरीकों, पशुपालन, मुर्गीपालन, मत्स्यपालन और बागवानी आदि से संबंधित क्षेत्रों में अपने विचारों, अनुभवों और नई नई जानकारियों का आदान प्रदान कर सकें।

उत्तर प्रदेश के पशुपालन विभाग के मंत्री एस पी सिंह बघेल और मंडी परिषद की प्रभारी मंत्री स्वाति सिंह ने भी योगी आदित्यनाथ सरकार द्वारा कृषि क्षेत्र के उत्थान के लिए उठाये जा रहे विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …