Breaking News
Home / देश / गणतंत्र दिवस परेड में प्रमुखता से दिखाया गया खेलो इंडिया
KISG Logo

गणतंत्र दिवस परेड में प्रमुखता से दिखाया गया खेलो इंडिया

नई दिल्ली । खेल एवं युवा मामलों के मंत्रालय ने चार साल के अंतराल के बाद गणतंत्र दिवस परेड में वापसी की और आने के साथ ही उसने राष्ट्रीय खेल प्रोग्राम-खेलो इंडिया को प्रमुखता से देश के सामने पेश किया। खेलो इंडिया प्रोग्राम की झलक लिए जब खेल एवं युवा मामलों के मंत्रालय की झांकी निकली तो उसे न सिर्फ राज पथ पर परेड देखने के लिए उमड़े जनसमूह की तालियां मिलीं बल्कि परेड के समापन स्थल लाल किले तक के समूचे रास्ते में भी लोगों ने इसे खूब सराहा।
‘खेलो इंडिया, जो खेलेगा वह खिलेगा’ के नारे के साथ निकली झांकी ने ओलम्पिक पदकधारियों और उनकी सफलता का एक बेहतरीन कोलाज पेश किया। इसे देखकर देश के लाखों युवा खेलों की ओर अग्रसर होने को प्रेरित हुए होंगे। झांकी में मलखम्भ विशेषज्ञों को भी दिखाया गया जो अपनी पारंपरिक पोशाक में दिल्ली की सर्दी के बीच इस प्राचीन भारतीय खेल की झलकियां पेश करते नजर आए। इन कलाकारों ने शीशम के खम्भे का उपयोग करते हुए कई करतब दिखाए और एक साथ मिलकर खम्भे पर संतुलन का बेहतरीन मुजायरा पेश किया। इसमें कोई शक नहीं कि मलखम्भ टीम ने अपने शानदार करतबों से सबका मन मोह लिया।
झांकी के एक कोने में कुछ मुक्केबाजों को रेफरी के साथ रिंग में दिखाया गया। इसके अलावा महिला भारोत्तोलकों को रिंग के दोनों कोनों पर दिखाया गया और साथ ही साथ खेलों इंडिया ज्योति को भी पेश किया गया। झांकी के पिछले सिरे पर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम को उकेरा गया था, जिसमें महाभारत काल के तीरंदाज अर्जुन को घूमती हुई धरती के ऊपर सवार दिखाया गया।
झांकी में एक टीवी कैमरामैन को भी दिखाया गया, जो लगातार मलखम्भ टीम की तस्वीरें ले रहा था। यह मानव द्वारा हासिल विशेष कार्यों और बहादुरी भरे दास्तानों को लोगों तक पहुंचाने का परिचायक है। साथ ही साथ इस झांकी में एक मुक्केबाजी ग्लव्स, एक फुटबाल, एक क्रिकेट हेलमेट और एक टेनिस रैकेट भी दिखाया गया।
खेलो इंडिया स्कूल गेम्स के पहले संस्करण का आयोजन 31 जनवरी से 8 फरवरी तक होना है। इन खेलों का आयोजन उन पांच आयोजन स्थलों पर होना है, जहां 1982 एशियाई खेल और 2010 राष्ट्रमंडल खेलों का आयोजन हुआ था। खेलो इंडिया स्कूल गेम्स में इस साल 3200 से अधिक एथलीट हिस्सा लेंगे। ये खिलाड़ी 16 खेलों में शिरकत करेंगे और 198 स्वर्ण पदकों पर निशाना लगाएंगे। खेलो इंडिया स्कूल गेम्स का प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर होगा।
Next9news

Check Also

shuzat

शुजात बुखारी को किसने मारा ओर क्यों!

नयी दिल्ली।अचानक कश्मीर से खबर आयी कि पत्रकार शुजात बुखारी की सरेशाम नृशस हत्या कर …