Home / Uncategorized / राष्ट्रपति के लिये राजनीतिक सरगर्मियां तेज
sonia-rahul-gandhi

राष्ट्रपति के लिये राजनीतिक सरगर्मियां तेज

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल जुलाई में समाप्त होने जा रहा है। अगला राष्ट्रपति किस पार्टी का बनेगा इसके लिये राजनीतिक दलों के साथ कांग्र्रेंस और बीजेपी के दिग्गज नेता बैठक करने में जुट गये हैं। भाजपा ने नारज शिवसेना को भी अपने साथ लाने का प्रयास करना शुरू कर दिया है। वैसे एक बात तो साफ है कि बीजेपी की 14 प्रदेशों में सरकारे ंहैं व तीन प्रदेशों में उनकी गठबंधन सरकारें सत्ता में हैं। लिहाजा उसका प्रयास रहेगा कि उसकी पसंद का नेता ही अगला राष्ट्रपति बने।

हाल में ही पांच प्रदेशों में हुए आम चुनावों में बीजेपी ने चार प्रदेशों में सरकारें बनायी हैं। सबसे बड़ी सफलता उनका यूपी में मिली है। ऐसे में राज्य सभा में बीजेपी का संकट काफी हद तक कम हो जायेगा। इसके साथ ही उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में भाजपा की सरकारें बनी हैं। इससे राज्यसभा में पार्टी के सदस्यों की संख्या बढ़ जायेगी।

अगले साल कुछ राज्य सभा सदस्यों का कार्यकाल खत्म हो रहा है। वर्तमान में भाजपा राज्या सभा के सदस्यों की संख्या कम हैं अतः केन्द्र सरकार को किसी बिल को पास कराने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। राज्यसभा में विपक्षी दलों की संख्या अधिक है। राष्ट्रपति चुनने में भाजपा का पक्ष मजबूत होता दिख रहा है।देश में अगला राष्ट्रपति कौन बनेगा इसके लिये राजनीतिक पैंतरेबाजी की शुरुआत हो चुकी है। एक तर केन्द्र सरकार के घटक दलों को एक जुट करने के लिये बीजेपी ने बैठकें करना शुरू कर दिया है।

दूसरी ओर कांग्रेस ने भी बीजेपी की मंशा को किसी हालत में पूरा न होने के लिये कमर कस ली है। इसी सिलसिले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सेक्यूलर विचार वाले राजनीतिक दलों के नेताओं से मिलना शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने भी राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी के तहत टीएमसी की ममता बनर्जी, डीएमके के नेता स्टालिन, सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, सीपीआई के डी राजा, जेडीयू के अध्यक्ष नितीश कुमार और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ मुलाकात कर विचार विमर्श शुरू कर दिया है। सोनिया गांधी ने बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती समेत अन्य विपक्षी दलों से भी मिलने का संकेत दिया है। अब देखना यह है कि सारा विपक्ष आपसी मतभेद भुला कर एक जुट होने में सफल होगा और एनडीए को किस हद तक टक्कर दे पायेगा।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Blue-Whale-Internet-Game

खूनी गेम ब्ल्यू व्हेल ने एक और बच्चे ने जान ली

नयी दिल्ली। इंटरनेट के जरिये खेला जाने वाले गेम ब्ल्यू व्हेल ने भारत में एक …