Breaking News
Home / देश / जम्मू-कश्मीर अर्लट: पीडीपी की बढ़ी मुश्किले, राजनैतिक हालात नाजुक

जम्मू-कश्मीर अर्लट: पीडीपी की बढ़ी मुश्किले, राजनैतिक हालात नाजुक

जम्मू-कश्मीर: घाटी में चल रही हिंसा की वजह से राजनैतिक गड़बड़िया भी पैदा होती जा रही हैं। घाटी में हुई बुरहान बानी की मौत के बाद से घाटी में हिंसा भड़क गई हैं। जिसके बाद गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने 3 बार घाटी का दौरा किया। दौरा करने के बावजूद भी घाटी की स्थित ज्यौं कि त्यौ हैं। बता दे कि जम्मू-कश्मीर में पीडीपी और बीजेपी का गठबंधन हैं औऱ हालहि में पीडीपी नेता तारिक कर्रा नें अपने सभी पदो से इस्तीफा दे दिया था।

घाटी में जारी हिंसा की वजह से कई छोटे-बड़े नेता इस्तीफा दे चुके हैं। जिसको देखकर यह अनुमान लगाय़ा जा रहा हैं कि घाटी के हालात और भी बिगड़ सकते हैं। घाटी में मौजूद राजनैतिक गलियारे इतने मायूस हो गए हैं कि वो परिस्थिति को सुधारने की कोई तरकीब नहीं बना पा रहे हैं।

कश्मीर घाटी के हालात जैसे-जैसे सुधरने लगते हैं वैसे ही फिर कोई घटना घाटी के लोगों को दहलाकर रख देती हैं। हालही में वरिष्ठ नेता तारिक कर्रा के दिए इस्तीफे से भले ही बीजेपी और पीडीपी को कोई असर ना पड़ा हो लेकिन तारिक ने घाटी में मौजूद पार्टियों के समीकरण को झगझोर कर रख दिया हैं।

बता दे कि तारिक कर्रा के इस्तीफे के बाद से कश्मीरी उनका जमकर साथ देते नजर आ रहे हैं। 2015 में हुए पीडीपी और बीजेपी के गठबंधन का तारिक कर्रा ने विरोध किया था। हालाकी मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती एक ही आस लगाए बैठी हैं कि घाटी में चल रही हिंसा किसी तौर पर रुक जाए।

गौरतलब हैं कि कश्मीर में चल रही हिंसा में करीब 80 लोगों की मौत हुई हैं 7500 से ज्यादा लोग घायल हैं औऱ राज्य को करीब 6500 करोड़ का नुकसान हुआ हैं।

Next9News

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …