Breaking News
Home / देश / प्रेसवार्ता में सवालों के जवाबों को देने से कतराते रहे प्रधान
petrolium min

प्रेसवार्ता में सवालों के जवाबों को देने से कतराते रहे प्रधान

नयी दिल्ली। मोदी सरकार के मंत्रियों को आगामी आम चुनाव के पहले सरकार की उपलब्ध्यिों को जनता तक पहंुचाने की कवायद में जुटा दिया गया है। इसी क्रम में पेट्रोलियम व स्किल इंडिया विभाग के मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पत्रकारवार्ता का आयोजन किया। उन्होंने इस दौरान पत्रकारों को अपनी बातों से बहलाने का भरसक प्रयास किया। लेकिन शायद पत्रकारों का एक धड़ा उनकी दलीलों को मानने को तैयार नहीं था। पत्रकारों ने स्किल इंडिया और पेट्रोलियम विभाग से जुड़े अनेक चुभते सवाल दागे, जिससे एक बारगी प्रधान झुंझला से गये। मंत्री अपने विभागों की उपलब्ध्यिों को गिनाने का प्रयास कर रहे थे। लेकिन आज पत्रकारो का असली रूप देखने को मिला। उन्होंने जमकर दोनो मंत्रालयों की कमियों को उजागर किया।

प्रेसवार्ता की शुरुआत में धर्मेंद्र प्रधान ने स्किल इंडिया विभाग की उपलब्यिों पर जानकारी दी। इसी दौरान एक सवाल में यह जानकारी मांगी गयी कि सरकार के चार साल के दौरान कुल कितने लोगों को कौशल विकास का प्रशिक्षण दिया गया। इस पर मंत्री ने कहा कि फिलहाल उनके पास इस विषय के आंकड़े उपलब्ध नहीं है। एक पत्रकार ने पूछा कि नार्थईस्ट के लोगों के लिये आपका मंत्रालय क्या विशेष योजनाएं चला रहा है। इस पर प्रधान ने जो जवाब दिया उससे पत्रकार संतुष्ट नहीं हुए।

उन्होंने आगे बताया प्रधानमंत्री कौशल केन्द्र खोलने की योजना के तहत कुछ केन्द्र खोले गये हैं। आने वाले समय में पूरे देश में खोलने का लक्ष्य है। इन केन्द्रों और आईटीआई से प्रशिक्षित युवाओं को बैंकों से आर्थिक सहयोग और रोजगार के लिये ऋण भी मुहैया कराया जायेगा। इस एक पत्रकार ने सवाल उठाया कि बैंकों के आर्थिक हालात किसी से छुपे नहीं हैं। सरकार ने उन्हें खड़ा करने के लिये लाखों करोड़ का भुगतान किया गया है। ऐसे में बैंकों से ट्रेन्ड युवाओं को आर्थिक मदद और लोन कैसे कर सकते हैं। इस मौके पर स्किल इंडिया मंत्रालय के राज्य मंत्री अनंत हेगड़े और दोनों मंत्रालय के सचिव भी मौजूद थे।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …