Breaking News
Home / देश / प्रेग्नेंट औरतें पेनकिलर का न करें सेवन, नपुंसक होने की आशंका
pregnant

प्रेग्नेंट औरतें पेनकिलर का न करें सेवन, नपुंसक होने की आशंका

नयी दिल्ली। अक्सर गर्भवती औरतों को एलोपैथ की दवाएं दर्द से छुटकारा पाने के लिये सेवन करती हैं। ऐसा करने से उनको कई प्रकार की परेशानियां का सामना करना पड़ सकता है। दवाओं का अधिक सेवन करने से उनकी सेक्स पावर भी होने की आशंका हो सकती है। इसके अलावा मासिक धर्म भी जल्दी आने की समस्या हो सकती है। एक अनुमान के मुताबिक तीन गर्भवती महिलाओं में एक महिला पेनकिलर का इस्तेमाल करती है।

एक शोध के मुताबिक ब्रूफेन और पैरासिटामाॅल का सेवन करने वाली गर्भवती महिलाओं में नपुंसकता और मासिक धर्म की समस्या होने की आशंका हो सकती है। पेनकिलर का सेवन करने वाली गर्भवती महिला का अंडाशय खाली रहता है जिससे अंडाणुओं का निर्माण जल्दी होने लगता है। शोध के अनुसार हर तीन में एक महिला खाती हैं पेनकिलर ब्रिटेन के एडिनबर्ग विश्वविद्यालय के शोधार्थियों ने इस पर शोध किया जिस के बाद उन्होंने कहा कि इन दवाओं के सेवन से गर्भवती महिलाओं को बचना चाहिए। हां अगर दर्द बर्दास्त से बाहर हैं तो इस स्थिति में पैरासिटामॉल ली जा सकती है लेकिन उसके अधिक इस्तेमाल से बचना चाहिए। अमेरिका में एक अनुमान के मुताबिक गर्भावस्था में तीन में एक महिला दर्द निवारक दवा का इस्तेमाल करती है।

डीएनए पर होता है असर अध्ययन में यह भी बताया कि हद से ज्यादा उपयोग की गई पेनकिलर से डीएनए पर मार्क आ जाते हैं। जिन अंडाशय को एक हफ्ते तक पैरासिटामॉल के संपर्क में रखा गया उनका एग प्रोडक्शन 40 फीसदी तक घट गया था। वहीं इबुप्रोफेन के संपर्क में रखने पर यह संख्या आधी हो गई थी। अध्ययन में पाया गया कि दवा के इस्तेमाल से भ्रूण के वीर्य और अंडे बनाने वाली कोशिकाओं की संख्या घट गई।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

ronaldinoh

फुटबाल स्टार रोनाल्डिनो की दो युवतियों से एक साथ विवाह करने की खबर फुटबालर ने किया इनकार

नयी दिल्ली। आजकल ब्राजील का स्टार फुटबालर रोनाल्डिनो दो युवतियों से एक साथ विवाह करने …