Breaking News
Home / देश / रुस्तम 2 का सफल परीक्षण, हथियार-मिसाइलें ले जाने में सक्षम

रुस्तम 2 का सफल परीक्षण, हथियार-मिसाइलें ले जाने में सक्षम

बेंगलुरू: देश में बना अब तक का सबसे बड़ा ड्रोन यानी मानवरहित विमान रुस्तम 2 का कल सफल परीक्षण किया गया। रुसतम 2 का परीक्षण बेंगलुरू से ढाई सौ किलोमीटर दूर चित्रदुया में किया गया। रुसतम 2 पूर्ण रूप से स्वदेशी हैं, इसका निर्माण डिफेंस रिसर्च एंड डिवेलपमेंट ऑर्गजाइनेशन यानी डीआरडीओ ने किया है।

इसे भी पढ़े : लड़ाकू विमान के लिए देश में जल्द तैयार होगे हाईवे

बता दे रुस्तम 2 देश के सशस्त्र बलों के लिए टोही मिशन और निगरानी का काम कर सकता हैं, रुस्तम 2 अमेरिकी ड्रोन की भांती हथियार और मिसाइल ले जाने में सक्षम हैं। रुस्तम 2 की मारक 250 किलोमीटर बताया जा रहा हैं, रुस्तम 2 अपने लक्ष्य पर सटीक मार करने में सक्षम है।

इसे भी पढ़े : राफेल विमान पर भारत और फ्रांस ने किए दस्तखत

रुस्तम 2 पूरी तरह से अत्याधुनिक तकनीको से लैस हैं, रुस्तम 2 में सिंथेटिक अपर्चर राडार लगे होने के कारण ये बादलों के पार भी देख सकता हैं, रुस्तम 2 तीस हजार फीट ऊंचाई पर भी लगातार 24 घंटे तक उड़ान भर सकता है। रुस्तम 2 का वजन 2 टन है इसका परीक्षण डीआरडीओ के युवा वैज्ञानिकों ने किया, जिसमें सशस्त्र बलों के पायलटों ने उनका सहयोग किया।

Next9news

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …