Breaking News
Home / देश / जेल से बाहर शहाबुद्दीन ने की पुलिस से बदतमीजी
shahbuddin

जेल से बाहर शहाबुद्दीन ने की पुलिस से बदतमीजी

जेल में सज़ा काट रहे बिहार के बाहुबली नेता शाहबुद्दीन को कमर दर्द की शिकायत है। इलाज के लिए उन्हें दिल्ली ले जाने की इजाजत भी दे दी गई। शाहबुद्दीन की तरफ से इस तरह की दलील दी गई कि कमर दर्द ने उनका जीना दुस्बार कर रखा है। लेकिन दिल्ली जाते वक्त शाहबुद्दीन को देख कर कहीं से भी ऐसा नहीं लग रहा था, कि कमर दर्द ने उनका जीना मुश्किल कर दिया है। सफेद शर्ट और ब्लू जिंस के साथ काला चश्मा लगाये जब शाहबुद्दीन जेल से निकले तो उनकी दबंगई देखते ही बन रही थी। पुलिस को हैकड़ी ऐसी दिखा रहा थे मानो वो कैदी नहीं बल्कि सरकारी मेहमान हों।

भागलपुर सेंट्रल जेल में बंद बाहुबली नेता और पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन को कमर दर्द के इलाज के लिए दिल्ली के एम्स अस्पताल ले जाया गया। भागलपुर के पास नवगछिया रेलवे स्टेशन से मो. शहाबुद्दीन को डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली तक का सफर करना था। रेलवे स्टेशन जाने के लिए शहाबुद्दीन ने कैदी वैन में चढ़ने से इनकार कर दिया, लेकिन आधे घंटे के मान-मनौव्वल और सुरक्षा की दुहाई देने के बाद वो मान गया और इसके बाद कैदी वैन से स्टेशन तक का सफर करने को राजी हुआ।

पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन फिर इस बात भी नाराज दिखा कि उनका रिजर्वेशन AC-2 में क्यों नहीं कराया गया है जबकि उनकी मांग AC-1 की थी। लेकिन सीट की उपलब्ध नहीं होने की वजह से आखरिकार शाहबुद्दीन को राजी होना पड़ा। वैसे भी ट्रेन आने के बाद अंतिम समय में उनके पास कोई विकल्प भी नहीं बचा था। अपने ताव को ताख पर रखकर आखिरकार शाहबुद्दीन मान गया और कैदी वैन से स्टेशन तक का सफर करने को राजी हुआ। बहरहाल इस मामले ने एक बार फिर से इस कहावत को सच साबित कर दिया है कि रस्सी जल गई लेकिन बल नहीं गया…..

 

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …

16,928 comments