Breaking News
Home / देश / शहाबुद्दीन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी बिहार सरकार

शहाबुद्दीन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी बिहार सरकार

नई दिल्ली। माफिया डॉन मोहम्मद शहाबुद्दीन ने जेल से बाहर आते ही एक ऐसा बयान दिया जो दिन पे दिन तूल पकड़ता जा रहा है। इस बयान से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खासे नाराज हैं और अब वो शहाबुद्दीन के मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी कर रहें हैं।

जानकारी के अनुसार 12 साल बाद जमानत पर जेल से रिहा हुए राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता और माफिया डॉन शहाबुद्दीन फिर मुसीबतों में घिर सकतें हैं। खबर के मुताबिक शहाबुद्दीन की जमानत के खिलाफ बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपील करने की तैयारी में है। इस मामले वे बिल्कुल भी देर नहीं करना चाहती। वह जल्द ही कोई फैसला कर सकती है।  खबर है कि राज्य सरकार शहाबुद्दीन की जमानत को रद्द कराने में जुटेगी।

बताते चलें कि शनिवार को 12 साल के बाद जेल से रिहा होते ही शहाबुद्दीन ने कहा था कि मेरे नेता लालू प्रसाद हैं और नीतीश कुमार परिस्थितियों के मुख्यमंत्री हैं। यह बयान देने के बाद से की बिहार में सत्ताधारी में शामिल दलों के बीच नोंक-झोंक तेज हो गई है।

उल्लेखनीय है कि शहाबुद्दीन को सीवान के बहुचर्चित तेजाब कांड में दो भाइयों को जला कर मार देने व तीसरे भाई राजीव रौशन की हत्या के मामले में पटना उच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद भागलपुर जेल से रिहा किया गया था।

आपको बता दें कि 16 अगस्त, 2004 को सीवान के व्यापारी चंदा बाबू के तीनों बेटों गिरीश, सतीश और राजीव का सरेआम अपहरण कर लिया गया था। गिरीश और सतीश की तेजाब डालकर बड़ी ही बेहराप से मौत के घाट उतार दिया था, जबकि उनके चंगुल से राजीव किसी तरह से भाग गया था। इसके जिसके बाद साल 2014 में राजीव की भी गोली मारकर हत्या कर दी।

Check Also

पंजाब में कांग्रेस के अभी भी असली सरदार है मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह

पंजाब कांग्रेस का एक वर्ग कैप्टन अमरिंदर सिंह को चूका हुआ मान रहा है। इनकी …