Breaking News
Home / देश / बेशर्म सरकार के घाघ मंत्री, सत्ता की चाहत में बदनामी मंजूर
mee too

बेशर्म सरकार के घाघ मंत्री, सत्ता की चाहत में बदनामी मंजूर

नयी दिल्ली। जी हुजुर हम बात कर रहे हैं देश के विदेश राज्य मंत्री एमजे अकब्र की। विदेश दौरे से लौट कर उन्होंने आते ही एक बयान जारी कर यह ऐलान कर दिया कि उन पर जो यौन शोषण के आरोप लगाये गये हैं वो निराधार और राजनीति से प्रेरित है। उन्होंने इस बात से साफ इनकार कर दिया कि जिन एक दर्जन महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाये हैं वो मुझे बदनाम करने और राजनीतिक छवि धूमिल करने के लिये लगाये है। साथ अकबर ने उन सभी महिलाओं को कानूनी नोटिस देने की धमकी भी दे डाली है। हद कर दी मंत्री ने बेशर्मी की।

दूसरी ओर उससे भी ज्यादा बेशर्मी तो मोदी सरकार की नजर आ रही है कि वो एक रेप के आरोपी को ढोने में अपनी शान समझ रही है। सबसे ज्यादा तो निराश विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की चुप्पी से हुई है। एक महिला हो कर भी यौन शोषण के आरोपी को किन कारणों से बचाने में जुटी हैं। उन से ज्यादा साहस तो कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी दिखाई है जिन्होंने आगे आ कर मीडिया मे कहा कि मामले की जांच होनी चाहिये। महिला व बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने भी रिटायर्ड जजों की समिति से जांच कराने का आश्वासन दिया है।

इस बीच में बजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एक सवाल के जवाब में कहा इस मामले की जांच हो सकती है। लेकिन जांच दोनों की होगी आरोपी और आरोप लगाने वाले की होगी। सोशल मीडिया पर कोई भी किसी के खिलाफ आरोप लगा सकता है।

लेकिन बेशर्मी तो पीएम मोदी की है जो बातें तो बहुत आदर्शवाद और नैतिकता काी करते है। महिला सम्मान और नारी सशक्तिकरण का ढोल पीटते नजर आते हैं लेकिन एक ऐसे मंत्री को अपने मंत्रिमण्डल में बनाये रखे हैं जिस पर एक दो नहीं बल्कि लगभग दर्जन भर महिला पत्रकारों ने मी टू अभियान के तहत बदसुलूकी और दुराचार का आरोप लगाया है। सरकार की इस मामले को लेकर वैसे काफी फजीहत हो रही है। विपक्ष आगामी चुनाव में इस मामले को प्रचार के दौरान भुनाने की कोशिश जरूर करेगा। लेकिन सरकार की अकबर को लेकर जो चुप्पी साधी जा रही है वो जनता को बहुत आहत करने वाली है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …