Breaking News
Home / गीत-गज़ल / …. आईने के सामने खड़े हो के, खुद से ही मांग ली माफी मैंने
sad song

…. आईने के सामने खड़े हो के, खुद से ही मांग ली माफी मैंने

आईने के सामने खड़े हो के,
खुद से ही मांग ली माफी मैंने।
किसी ने यूंही पूछ लिया हमसे कि,
दर्द की कीमत क्या है।
हमने हंसते हुए कहा-पता नहीं,
कुछ अपने तो मुफ्त में दे जाते हैं।
आईने के सामने खड़े हो के,
खुद से ही मांग ली माफी मैंने।
सबसे ज्यादा अपना ही दिल दुखाया है,
औरों को खुद करते करते।
कहां मिलता है समझने वाला,
जो भी मिलता है बस समझ के चला जाता है।
समय अच्छा हो तो गलती भी मजाक लगती है,
समय खराब हो तो मजाक भी गलती बन जाता है।
…. दीपिका टंडन

Check Also

sad song

….जब तक खुली आंख रहे तब तक याद आते हो

जब चांद आसमां से ताकता है याद आते हो, जब तक खुली आंख रहे तब …