Breaking News
Home / Tag Archives: next9news alert (page 4)

Tag Archives: next9news alert

वैपकाॅस का स्वर्णजयंती स्थापना समारोह- हमें गर्व है कि वैपकाॅस हमारी सहयोगी कंपनी है- गडकरी

collage vapcoss

नयी दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी वैपकाॅस ने मंगलवार को अपना 50वां स्थापना देश की राजधानी दिल्ली के प्रवासी भारतीय केन्द्र में मनाया। इस अवसर पर सड़क परिवहन, शिपिंग इंडिया और नमामि गंगे परियोजना आदि के कैबिनेट मंत्री नितिन गडकरी, जल संसाधन राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और मानव संसाधन …

Read More »

… अब खुशी है न कोई दर्द रुलाने वाला

sad love

जो गुजारी न जा सकी हमसे, हमने वो जिंदगी गुजारी है। अब खुशी है न कोई दर्द रुलाने वाला, हमने अपना लिया हर रंग जमाने वाला। अब रख सको तो मुझसे कोई ऐसा राब्ता रखना, पूरी तरह हो जाओ मेरे तो आना लौट कर वर्ना यूं ही फासला बनाये रखना। …

Read More »

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान पुरस्कार समारोह में हेल्थ मिनिस्टर ने सम्मानित किया

605A1376

नयी दिल्ली। ‘महज 23 महीनों में हमने देशभर में 12,900 स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों में 1.3 करोड़ प्रसव पूर्व जांच किए हैं और हमने 6.5 लाख उच्च जोखिम वाली गर्भावस्थाओं की भी पहचान की। ’केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री श्री जे पी नड्डा ने आज यहां ‘आई प्लेज फॉर नाइन’ …

Read More »

देश के प्रथम प्रधानमंत्री नेहरूजी की सैलरी थी 1,600 रुपये प्रतिमास

first pm

नयी दिल्ली। भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपने निजी खर्चों पर बोलने के मामलों में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु के मुकाबले कम पारदर्शी होने का आरोप लगा है । यूपी की राजधानी लखनऊ स्थित समाजसेवी और इंजीनियर संजय शर्मा ने लगभग 56 साल पहले 28 जुलाई 1962 को लखनऊ …

Read More »

‘नेहरूजी के मुकाबले कम पारदर्शी हैं मोदी’

nehru-modi

नयी दिल्ली। भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपने निजी खर्चों पर बोलने के मामलों में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु के मुकाबले कम पारदर्शी होने का आरोप लगा है । यूपी की राजधानी लखनऊ स्थित समाजसेवी और इंजीनियर संजय शर्मा ने लगभग 56 साल पहले 28 जुलाई 1962 को …

Read More »

….लोग जहर में डूबे किरदार क्यों हैं

Sad-Shayari

इतने बेताब इतने बेकरार क्यूं हैं, लोग जरूरत से ज्यादा होशियार क्यों हैं। सामने तो सभी दोस्त हैं लेकिन, पीठ पीछे दुश्मन हजार क्यों हैं। हर चेहरे पर एक मुखौटा है यारांे! लोग जहर में डूबे किरदार क्यों हैं। सब काट रहे हैं इक दूजे को, लोग सभी यहां दुधारी …

Read More »

ऐ! जिंदगी तेरे फलसफे समझ नहीं आते।

sketch

तेरी किताब के हर्फ समझ नही आते, ऐ! जिंदगी तेरे फलसफे समझ नहीं आते। कितने पन्ने हैं किसको संभाल कर रखूं, और कितने फाड़ दू सफे, समझ नहीं आते। चैंकाया है हर मोड़ पर ऐ जिंदगी यूं हर मोड़ पे, बाकी हैं और कितने शिगूफे, समझ नहीं आते। हम तो …

Read More »

गुजरात सरकार के खिलाफ तीन विधायकों ने की बगावत

amit-shah-rupani

नयी दिल्ली। इसी साल गुजरात में छह माह पूर्व बीजेपी की सरकार बनी थी। सरकार और उनकी पार्टी के विधायकों के बीच तालमेल नहीं बन पाया है। तीन विधायकों ने अपनी परेशानियों को पत्रकारों से साझा करते हुए सीएम विजय रूपानी और प्रशासनिक अफसरों की आलोचना की है। तीनों विधायकों …

Read More »

हिसाब बराबर हुआ चलो कोई .गम नहीं

sad song

हिसाब बराबर हुआ चलो कोई .गम नहीं, हमारे पास तुम नहीं तुम्हारे पास हम नहीं। मेरी आंखों में छिपी उदासी को महसूस तो कर, हम वो हैं जो सब को हंसा कर सारी रात रोते हैं। वक्त का पता ही नहीं चलता अपनों के साथ, मगर अपनों का पता चलता …

Read More »

प्रेमविवाह का भयावह अंत-पति ने किये पत्नी के सात टुकड़े

murder scene

नयी दिल्ली। सरिता विहार में 21 जून की सुबह टुकड़ों में मिली लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। पति और उसके दो भाइयों को अरेस्ट किया गया है। मुख्य आरोपी ने भाइयों के संग मिल शव के 7 टुकड़े किए। फिर कार्टून और बैग में डालकर बॉडी जंगल …

Read More »