Breaking News
Home / देश / एनडीए के अलायंस में टूट, टीडीपी ने नाता तोड़ा
tdp

एनडीए के अलायंस में टूट, टीडीपी ने नाता तोड़ा

नयी दिल्ली। ज्यौं-ज्यौं आमचुनाव की घड़ी पास आती जा रही है। एनडीए के घटकों में अलायंस के प्रति नाराजगी बढ़ती जा रही है। ताजा मामला आन्ध्र प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी तेलुगू देशम पार्टी का है। पार्टी ने शुक्रवार को संसद में अविश्वास प्रस्ताव ला कर मोदी सरकार को सकते में डाल दिया।
पिछले आम चुनाव में टीडीपी एनडीए में शामिल हुई थी। मोदी सरकार के तीन बीतने तक गठबंधन में दरार नहीं देखी जा रही थी। लेकिन चैथे साल के अंत तक अलायंस में बगावती सुर सुनाई देने लगे।

ताजा मामला टीडीपी का है जिसने संसद में सदन के पट पर सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश कर दिया। पार्टी का मानना है कि केन्द्र सरकार आन्ध्र प्रदेश की जनता के साथ किय वादे पूरा नहीं कर रही है। टीडीपी का कहना है चालू वित्त वर्ष के बजट में आन्ध्र पदेश के लिये कुछ भी नहीं दिया गया है प्रदेश की जनता के हितों की अनदेखी की गयी है उनकी मांग है कि आन्ध्र पदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाये। तब से टीडीपी के सुर बदलने लगे थे। उसके सांसदों ने संसद के दोनों सदनों में हंगामा करते हुए अपनी मांगे पूरी करने के लिये प्रदर्शन किया। इस बीच में आन्ध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने पीएम मोदी मिल कर मामला सुलझाने का प्रयास किया लेकिन उन्हें आश्वासनों के अलावा कुछ भी हासिल नही हुआ।

इस बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने टीडीपी की आशाओं पर पानी फेरते हुए साफ कह दिया कि टीडीपी की मांग जायज नहीं है। टीडीपी भावनाओं के आवेश में बह कर केन्द्र से विशेष दर्जे की मांग कर रही है। इसके लिये फण्ड भी होना चाहिये। फिलहाल केन्द्र सरकार नायडू की मांग पूरा नहीं कर सकती है। पिछले कई महीनों स ेचल रही इस अनबन का परिणाम टीडीपी ने गठबंधन से अलग होने पर खत्म हुआ। टीडीपी के समर्थन में वाईएसआर कांग्रेस, आन्ध्र प्रदेश कांग्रेस, एमआईएम, टीएमसी, सीपीएम और सीपीआई समेत अनेक क्षेत्रीय दल आ गये हैं।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …