Home / देश / जीएसटी के विरोध में कपड़ा व्यापारियों की तीन दिवसीय हड़ताल शुरू
traders strike

जीएसटी के विरोध में कपड़ा व्यापारियों की तीन दिवसीय हड़ताल शुरू

नयी दिल्ली। केन्द्र सरकार देश में जीएसटी लागू करने की कवायद में जुटी है वहीं दूसरी ओर इसके विरोध में हड़ताल और धरना-प्रदर्शन शुरू हो गये हैं। कपड़ा उद्योग में सरकार ने पांच प्रतिशत कर लगाने का प्रावधान किया है। इससे नाराज व्यापारियों ने मंगलवार से तीन दिवसीय हड़ताल की घोषणा की है। ऐसोचैम व फिक्की ने भी वित्त मंत्रालय को जीएसटी को अभी लागू न करने की सिफारिश की है। भाजपा के राज्यसभा सदस्य डा. सुब्रमण्यिम स्वामी ने भी प्रधानमंत्री मोदी को जीएसटी लागू न करने की अपील की थी। इसके बावजूद वित्त मंत्रालय जीएसटी लागू हर हाल में करने पर तुली है।

भारतीय उद्योग व्यापार मंडल ने 30 जून को सभी तरह के व्यापार बंद रखने की अपील की है। चांदनी चौक सहित दिल्ली के सभी कपड़ा और गारमेंट बाजारों ने सोमवार को तीन दिवसीय हड़ताल करने की रूपरेखा तैयार की गयी। लेकिन गांधी नगर टैंक रोड, लाजपत नगर की गारमेंट एसो. ने सिर्फ मंगलवार को दुकानें बंद रखने की बात कही है। इनका मानना है कि गारमेंट उद्योग पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगने से पूरी सप्लाई चेन प्रभावित होगी। भारतीय उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष श्याम बिहारी मिश्र और महासचिव विजय प्रकाश का कहना है कि दिल्ली, यूपी, हरियाणा, पंजाब, गुजरात और तमिलनाडु की इकाइयों ने 30 जून को एक दिन का सर्व व्यापार को समर्थन दिया है।
लेकिन अन्य ट्रेड एसो. ने 30 जून की सांकेतिक हड़ताल की तैयारी की हैं।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

kovind with Bahoo

राष्ट्रपति की बहू लडेंगी बीजेपी के खिलाफ चुनाव

नयी दिल्ली। कानपुर के झींझक नगर पालिका का चुनाव में भाजपा के लिए उस समय …