Breaking News
Home / स्वास्थ्य / बच्चों के लिये घातक है, शिनचैन और डोरेमॉन

बच्चों के लिये घातक है, शिनचैन और डोरेमॉन

हर माता पिता की जेहन में अक्सर ये सवाल आता ही होगा, कि आखिर क्यों बच्चे कार्टून के पीछे भागते हैं, लेकिन इसकी वजह बहुत कम लोग तलाशते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो कार्टून्स में बच्चों के बीच सबसे पॉपुलर डोरेमॉन और शिनचैन के संदर्भ में सरकार और चैनलों से शिकायत की गई है। खबरों की मानें तो ग्वालियर के आरटीआई वर्कर आशीष चतुर्वेदी ने बकायदा कानूनी नोटिस भेजकर इन कार्टून्स को बंद करने के लिए आवाज उठाई है।

वैसे कार्टून में दिखाया जाता है, कि डोरेमॉन नोबिता की हर मुसीबत को छू-मंतर कर देता है, वो भी बस अपने एक गैजेट से और शिनचैन जो अपनी हरकतों से हर किसी को परेशान कर देता है। बता दें कि नोटिस में भी कहा गया है कि डोरेमोन में नोबिता माता-पिता की बात नहीं सुनता। ये बात कहीं ना कहीं बच्चों को पढ़ाई से दूर कर रही है। ठीक इसी तरह शिनचैन भी हर किसी का मजाक बनाता है जो कि तर्क संगत नहीं है। खैर अब देखने वाली बात यह होगी कि आशीष के इस नोटिस पर क्या कदम उठाये जाते हैं।

Check Also

डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कम से कम देश में 50 लाख वैक्सीन रोज लगाई जाए

देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है. वही पिछले …