Home / देश / चुनाव स्पेशल / केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने माना कि वो ग्रेज्युएट नहीं
smriti-irani-fake-degree-row

केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने माना कि वो ग्रेज्युएट नहीं

नयी दिल्ली। केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी हमेशा से चर्चा में बनी रहती हैं। कभी वो अपने बयानों तो कभी अपनी शैक्षिक योग्यता को लेकर। इससे पहले वो मानव संसाधन मंत्री के रूप में भी उनके विवादित आदेश व बयान काफी चर्चा में रहती थी। तमिलनाडु में रोहित वेमुला की आत्महत्या पर भी उनकी बयानों की काफी निंदा की गयी।

ताजा मामला उनकी शैक्षिक योग्यता के प्रमाणपत्रों को लेकर आया है। उन्होंने गुजरात से राज्य सभा सांसद के लिये पर्चा भरते समय यह दर्शाया गया कि वो स्नातक नहीं हैं। उन्होंने अभी तक बी.कॉम की पढ़ाई नहीं की है। उनके पास किसी भी प्रकार की डिग्री नहीं है। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि इससे चुनाव आयोग में जमा किये हलफनामे झूठे थे। उनकी शैक्षिक योग्यता को लेकर विपक्ष ने काफी हंगामा किया था। अगस्त में दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवायी होने की तारीख तय हो गयी है।

2004 में दिल्ली के चांदनी चौक से भाजपा के प्रत्याशी के रूप में लोकसभा का चुनाव लड़ा था तब उन्होंने यह हलफनामा दिया था कि वो दिल्ली विवि से स्कूल ऑफ कारोस्पोंडेंस से 1996 में बीए कर चुकी हैं। बाद में उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट पर अमेठी से राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा था। उस दौरान चुनाव आयोग को दिये हलफनामे में उन्होंने यह दर्शाया था कि वो दिल्ली विवि बीए कर चुकी हैं। स्मृति ईरानी के नये हलफनामे साफ हो गया कि चुनाव आयोग को पहले दिये गये हलफनामे झूठे थे। चुनाव आयोग को झूठे हलफनामे देने की दोषी होने पर सजा का प्रावधान है।

विनय गोयल की रिपोर्ट

Next9news

Check Also

kovind with Bahoo

राष्ट्रपति की बहू लडेंगी बीजेपी के खिलाफ चुनाव

नयी दिल्ली। कानपुर के झींझक नगर पालिका का चुनाव में भाजपा के लिए उस समय …