Breaking News
Home / गीत-गज़ल / युद्ध किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता

युद्ध किसी भी समस्या का समाधान नहीं होता

युद्ध हमेशा से पूंजीपतियों के पक्ष में होता है। पहले युद्ध की तैयारी के नाम पर संसाधनों को युद्ध सामग्री खरीदने पर खर्च किया जाता है। जिसका फायदा इसे बनाने से लेकर इसकी दलाली में लगे सटोरियों को होता है। गलती से युद्ध हो जाये तो सट्टे बाज जरूरी सामानों के रेट दुगने तिगुने नहीं दस गुने तक कर देते है।

इसे भी पढ़े : लड़ना है तो कुपोषण और गरीबी से लड़े

यानि फायदा ही फायदा चुकीं सुरक्षा से बड़ा कोई मुद्दा नहीं, और सारे संसाधन युद्ध के नाम पर बहा दिए जाते है। अतः अब जहा तक आम जनता की बात उसके स्वास्थ्य, शिक्षा आदि विषयों पर खर्च करने के लिए संसाधन ही नहीं बचते युद्ध में जो सैनिक मरते है वो भी किसान और मजदूरों की ही संताने होती है,न की धना सेठों की।

इसे भी पढ़े : अंग्रेजी स्कूलों से गुजरता हुआ सरकारी भविष्य?

प्रथम विश्वयुद्ध से सीरिया युद्ध तक को उठा कर देख ले, युद्ध के नाम पर जो राजनीति होती है उससे मालामाल देशी विदेशी पूंजीपति, नेता (दलाली उन्हें भी जाती है ) होते है। पिसते सीमा के इस और उस पार के आम जन ही।सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सैनिकों को बधाई। युद्ध समस्या का समाधान नहीं।

लेखक अश्वनी कुमार के निजी विचार

Next9News

Check Also

….जब तक खुली आंख रहे तब तक याद आते हो

जब चांद आसमां से ताकता है याद आते हो, जब तक खुली आंख रहे तब …