Breaking News
Home / Uncategorized / किसके सिर सजेगा यूपी का ताज
up cm

किसके सिर सजेगा यूपी का ताज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश चुनाव में जीत का झंड़ा फहराने के बाद बीजेपी ने साबित कर दिया है कि वाक्यई मोदी लहर अभी थमी नहीं हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव में जहां बीजेपी के आने पर हर कोई मुकर रहा था ऐसे में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सरकार बनाकर मोदी लहर से सबको किनारे लगा दिया है। अब देश की जनता को इंतजार है तो बस उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का। जो आज शाम तक खत्म हो जाएगा, और पता चल जाएगा कि कौन सा चेहरा मुख्यमंत्री के तौर पर उभरकर आएगा। जिन चेहरों की उम्मीद जताई जा रही है बताते हैं आपको उनके बारे में।

जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की दौड़ में सबसे पहले नाम आता है यूपी के ही मुख्यमंत्री रह चुके राजनाथ सिंह का। बीजेपी पार्टी में राजनाथ सिंह एक पुराना चेहरा है और पार्टी में उनकी अलग पहचान है। राजनाथ सिंह केंद्र में गृहमंत्री पद पर हैं ऐसे में देखना होगा कि क्या वो यूपी की कमान संभालना चाहेंगे।

दूसरे स्थान पर जो चेहरा है वो है फूलपुर से सांसद केशव प्रसाद मौर्य का। जिनपर नजर डाली जाए तो पता चलता है कि वो लगातार तरक्की पर है। उत्तर प्रदेश में ओबीसी मतदाताओं को बहुत ही अहम समझा जाता है जोकि चुनाव के लिहाज से बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होते है। ऐसे में केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी इस कतार में शामिल है। जोकि कि 2019 के लोकसभा चुनावों में काफी अहम हो सकता है।

तीसरे स्थान पर हैं बेबाक बयानबाजी करने वाले गोरखपुर से सांसद योगी आदित्यनाथ। योगी आदित्यनाथ की बयानबाजी से केवल यूपी ही नहीं पूरा देश वाकिफ है। इस लिस्ट में योगी आदित्यनाथ का नाम भी शामिल है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर इनके नाम पर भी मुहर लग सकती है।

चौथे और आखिरी स्थान पर हैं गाजीपुर से सांसद मनोज सिन्हा। मनोज सिन्हा जो की पार्टी का जाना माना चेहरा है। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा बीजेपी में अपनी एक खास पहचान के लिए जाने जाते है। इस कतार में उनका भी नाम काफी जोरो शोरो से लिया जा रहा है। बताया जाता है कि ये गृहमंत्री के बेहद खास माने जाते है और पीएम मोदी भी इनकी काम की खासी तारिफ करते है।

Next9News

Check Also

Upendra-Kushwaha-to-Meet-BJP-Chief-Amit-Shah-on-Monday-Over-Seat-Sharing-in-Bihar-NDA

उपेंद्र को मनाने की कोशिश में शाह, तेजस्वी से बढ़ी नजदीकियां

नयी दिल्ली। मिशन 2019 के लिये बीजेपी अपने पुराने साथियों को हर हाल साथ में …